Human-Animal Conflict : बुजुर्ग महिला पर हाथी ने सूंड से हमला कर उतारा मौत के घाट

Human-Animal Conflict : बुजुर्ग महिला पर हाथी ने सूंड से हमला कर उतारा मौत के घाट

Human-Animal Conflict: An elderly woman was attacked by an elephant with a trunk and put to death

Human-Animal Conflict

जशपुर/नवप्रदेश। Human-Animal Conflict : छत्तीसगढ़ में मानव और जानवर के बीच संघर्ष जारी है। जशपुर में आज एक जंगली हाथी का आतंक देखने को मिला। हाथी के हमले में बुजुर्ग महिला की मौत हो गई।

बुजुर्ग महिला निकली थी घर से बाहर

बुजुर्ग महिला सुबह में घर से बाहर निकली थी। बाहर निकलने पर महिला का हाथी से सामना हो गया। महिला हाथी से बचने के लिए पीछे पलटी, लेकिन हाथी ने सूंड से महिला को हमला कर मौत के घाट उतार दिया। घटना वन परिक्षेत्र तपकरा के बाबू साजबहार गांव की है। मृतक महिला की पहचान 65 वर्षीय प्यारी टोप्पो के तौर पर हुई है। वन विभाग के अधिकारी नवीन निराला ने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है।

नवीन निराला ने बताया कि मृतक महिला के परिजनों को 25 हजार की तत्काल सहायता राशि पहुंचा दी गई है। बाकी की 5.75 सहायता राशि जरूरी प्रक्रिया पूरी होने के बाद दे दी जाएगी। हाथियों के हमलों की घटना सरगुजा, रायगढ़, कोरबा, सूरजपुर, गरियाबंद, जशपुर और बलरामपुर जिलों में आए दिन की बात हो गई है। वन विभाग की तमाम कोशिश के बावजूद मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है।

ओड़ीशा से वन परिक्षेत्र तपकरा में घुसा 14 हाथियों का झुंड 

उन्होंने बताया कि हाल ही में 14 हाथियों का झुंड वन परिक्षेत्र (Human-Animal Conflict) तपकरा में पड़ोसी राज्य ओड़ीशा से घुस आया था। वन विभाग ने स्थानीय ग्रामीणों को हाथियों के दस्तक की सूचना दे दी है। आपको बता दें कि जशपुर की सीमा पड़ोसी राज्य ओड़ीशा और झारखंड से मिलती है.। ओड़ीशा, छत्तीसगढ़ और झारखंड की सीमा पर तपकरा परिक्षेत्र के घने जगलों में हाथियों का डेरा रहता है। राज्य के उत्तरी हिस्से में मानव और हाथी का संघर्ष पिछले एक दशक से प्रमुख चिंता की वजह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update