Ayush University : अपने ही विश्वविद्यालय के विरोध में धरने पर बैठी नर्सिंग छात्राएं -

Ayush University : अपने ही विश्वविद्यालय के विरोध में धरने पर बैठी नर्सिंग छात्राएं

Ayush University: Nursing students sitting on dharna in protest against their own university

Ayush University

प्रदेश भर से नर्सिंग के छात्र ऑनलाइन परीक्षा की कर रहे हैं मांग

रायपुर/नवप्रदेश। Ayush University : ऑनलाइन परीक्षा को लेकर एक बार फिर छात्रों ने आंदोलन का रास्ता अपनाया। दरअसल इसी मंशा से, शनिवार को आयुष विश्वविद्यालय के नर्सिंग छात्र अपने ही विश्वविद्यालय के विरोध में विश्वविद्यालय के गेट पर जमा हुए।

छत्तीसगढ़ के विभिन्न विश्वविद्यालयों से बड़ी संख्या में नर्सिंग के छात्र रायपुर पहुंचे। करीब 5 घंटे तक सभी ने यूनिवर्सिटी के बाहर बैठकर धरना दिया। इस दौरान विवि की ओर से न तो कुलपति मिले और न ही कोई जिम्मेदार।

एनएसयूआई ने दिया समर्थन

छात्रों के इस विरोध प्रदर्शन को एनएसयूआई ने भी अपना समर्थन दिया है। एनएसयूआई के नेता भावेश शुक्ला ने बताया कि छात्र तब तक नहीं हटेंगे जब तक ऑनलाइन परीक्षा का एलान नहीं कर दिया जाता। एक छात्र ने बताया कि आयुष विश्वविद्यालय के (Ayush University) बीएससी नर्सिंग के फस्र्ट ईयर से लेकर फाइनल ईयर तक 22 हजार स्टूडेंट हैं। बीते 16 अगस्त को परीक्षा की तारीख तय की गई थी। प्रैक्टिकल एग्जाम हुए। मगर ऑफलाइन मोड में ली जा रही परीक्षा को पर्चा लीक होने की बात कहकर रद्द कर दिया गया।

ऑनलाइन पढ़ाई तो परीक्षा भी ऑनलाइन की मांग पर अड़े

इससे पहले भी कोविड की वजह से हमारा एग्जाम नहीं हो सका। करीब 1 साल देरी से जैसे-तैसे शुरू हुई परीक्षा कैंसल हो गई थी। नर्सिंग के स्टूडेंट्स ने कोविड के समय पर काम भी किया। साल भर हमारी पढ़ाई प्रभावित रही।

इसके बाद दो से तीन महीने में ही ऑनलाइन तरीके से कोर्स पूरा कराने की खानापूर्ति हो गई। हम चाहते हैं जब पढ़ाई ऑनलाइन हुई तो परीक्षा भी ऑनलाइन हो। यदि परीक्षा ऑनलाइन मोड में होती है तो स्टूडेंट्स को पेपर लिखने का अधिक वक्त मिलेगा।

यूनिवर्सिटी की गलतियों से लीक हुआ पेपर, ऑनलाइन एग्जाम लेकर दें राहत

दूसरी तरफ दो दिन पहले ही छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी ने भी ऑनलाइन परीक्षा लेने का ऐलान कर दिया है। ऐसे में सभी नर्सिंग स्टूडेंट चाहते हैं कि उनकी परीक्षा भी ऑनलाइन ही हो।

आयुष विश्वविद्यालय के (Ayush University) छात्रों ने बताया कि हमें तैयारी बेहतर तरीके से करने का वक्त भी नहीं मिला है। यूनिवर्सिटी की गलतियों की वजह से पेपर लीक हुआ और हमारा एग्जाम कैंसल किया गया इसलिए अब यूनिवर्सिटी को ऑनलाइन एग्जाम लेकर थोड़ी राहत देनी चाहिए।


JOIN OUR WHATS APP GROUP

Leave a Reply

Your email address will not be published.

COVID-19 LIVE Update