एसपी कार्यालय में आरक्षक की पत्नी ने किया आत्मदाह का प्रयास - Navpradesh

एसपी कार्यालय में आरक्षक की पत्नी ने किया आत्मदाह का प्रयास

SP Office In The reserve Wife committed suicide

SP Office

  • पेट्रोल लेकर पहुंची महिला, स्टॉफ में मचा हड़कंप
  • बीच-बचाव कर महिला पुलिसकर्मियों ने बचाई जान

बिलासपुर। दहेजलोभी Dowry आरक्षक पति पर कार्रवाई नहीं होने से क्षुब्ध पत्नी ने सोमवार को एसपी कार्यालय SP Office में आत्मदाह suicide का प्रयास किया। उसके हाथों में पेट्रोल देखकर वहां मौजूद स्टॉफ में हड़कंप मच गया। महिलाकर्मियों ने बीच-बचाव कर उसकी जान बचाई। पुलिस ने एक बार फिर उसे जल्द ही आरोपी पति को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है।

चेहरे में स्कार्फ ढंककर एक महिला हाथ में पेट्रोल का डिब्बा लिए सोमवार दोपहर एसपी कार्यालय में प्रवेश किया। इसके बाद उसने खुद के ऊपर पेट्रोल डालना शुरू कर दिया। यह देखते ही वहां मौजूद पुलिसकर्मी सकते में आ गए। दौड़ते-भागते पुलिस कर्मी महिला के पास पहुंचे। महिला पुलिस कर्मियों ने उसके हाथ से पेट्रोल का डिब्बा छीना और उसे पकड़ लिया।

पूछताछ करने पर महिला ने बताया कि उसने 22 जुलाई को एसपी को एक आवेदन दिया था, जिसमें 7 दिनों के भीतर आरोपी आरक्षक पति सुरजीत सिंह जायसी को गिरफ्तार करने का अल्टीमेटम दिया था। ऐसा नहीं करने पर उसने आत्मदाह की चेतावनी दी थी। इतने दिनों में कार्रवाई नहीं होने पर वह आत्मदाह करने आई है। महिला पुलिसकर्मियों ने उसे खूब समझाइश दी। अंत वह मान गई और आत्मदाह नहीं करने की बात कही।

जानिए क्या है मामला

सीपत थाना क्षेत्र निवासी 25 वर्षीय महिला का फेसबुक के माध्यम से सीपत थाने में पदस्थ आरक्षक सुरजीत सिंह जायसी से परिचय हुआ। दोनों ने शादी कर ली। कुछ दिनों के बाद पति सुरजीत सिंह और ससुराल पक्ष के लोग उसे दहेज के प्रताडि़त करने लगे। आखिरकार तंग आकर महिला ने महिला थाने में शिकायत दर्ज कराई। जांच के बाद महिला थाने में आरोपी पति सुरजीत सिंह, रघुवीर सिंह, सास सुलोचना जायसी और अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

पति सुरजीत सिंह और रघुवीर सिंह को छोड़कर सभी को अग्रिम जमानत मिल गई है। महिला 17 जुलाई 2019 की शाम करीब 4 बजे वह सरकंडा पुल के पास थी। इसी बीच कार क्रमांक सीजी 10 एलए 2522 में सवार होकर आरोपी पति सुरजीत सिंह, रघुवीर सिंह, सास सुलोचना जायसी, देवर साहिल जायसी और दो-तीन अन्य लोग आए और उसे रोककर गंदी-गंदी गालियां देने लगे।

उसे धमकी दी गई कि अगर वह केस वापस नहीं लेती है तो उसे जान से मार दिया जाएगा। उसने आरोपी पति सुरजीत सिंह और रघुवीर सिंह को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर एसपी को ज्ञापन दिया था। उसका आरोप था कि स्टॉफ होने के कारण पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर रही है।


JOIN OUR WHATS APP GROUP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update