Rain and landslides: उत्तराखंड में बारिश और भूस्खलन से 47, केरल में 27 और नेपाल में 21 लोगों की मौत…

Rain and landslides: उत्तराखंड में बारिश और भूस्खलन से 47, केरल में 27 और नेपाल में 21 लोगों की मौत…

Rain and landslides, 47 people died in Uttarakhand, 27 in Kerala and 21 in Nepal due to rain and landslides,

Rain and landslides

Rain and landslides: आईएमडी ने 20 अक्टूबर से केरल के कई हिस्सों में तीन दिनों तक बारिश होने का अनुमान

-केरल में 1 से 19 अक्टूबर के बीच 135% अधिक वर्षा हुई है।
-उत्तराखंड और नेपाल में बारिश ने यूपी की कई नदियों का जलस्तर बढ़ा दिया है

नई दिल्ली। Rain and landslides: पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश से देश के कई हिस्सों में बैकलॉग हो गया है। उत्तराखंड और केरल में भारी बारिश ने कहर बरपा रखा है। उत्तराखंड में मंगलवार को बाढ़ और बारिश के कारण हुए एक हादसे में कम से कम 42 लोगों की मौत हो गई। ज्यादातर मौतें बादल फटने और भूस्खलन से हुई हैं। कई लोग अभी भी मलबे में दबे हुए हैं। केरल में अब तक विभिन्न घटनाओं में 27 लोगों की मौत हो चुकी है।

केरल में बाढ़ और भूस्खलन से 27 की मौत

केरल के कई जिलों में भारी बारिश (Rain and landslides) हुई है। जिससे बाढ़ आ गई है। राज्य के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन में कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई है। कुछ लोगों के लापता होने की भी खबर है।

भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि राज्य में 1 से 19 अक्टूबर के बीच 135% अधिक बारिश हुई है। सामान्यत: इस अवधि में 192.7 मिमी वर्षा होती है, लेकिन इस वर्ष 453.5 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

केरल के 11 जिलों में बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट

आईएमडी ने 20 अक्टूबर से केरल के कई हिस्सों में तीन दिनों तक बारिश होने का अनुमान जताया है। मौसम विभाग ने आज तिरुवनंतपुरम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड और कन्नूर सहित राज्य के 11 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया।

कासरगोड, अलाप्पुझा और कोल्लम में येलो सिग्नल चालू है। विभाग ने 21 अक्टूबर को कन्नूर और कासरगोड को छोड़कर सभी जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

उत्तर प्रदेश में भी अलर्ट जारी

उत्तराखंड और नेपाल में मूसलाधार बारिश का असर अब उत्तर प्रदेश में भी महसूस किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में कई नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। लखीमपुर खीरी, सीतापुर और बाराबंकी में बाढ़ की चेतावनी जारी की गई है। नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है।

दरअसल उत्तराखंड से बनबसा बांध के जरिए पानी छोड़ा गया है। इसके चलते रामपुर इलाके में कोसी नदी ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। नदी किनारे के दर्जनों गांवों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। प्रशासन ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है।

नेपाल में बारिश से 21 की मौत

नेपाल भी मूसलाधार बारिश की चपेट में है। नेपाल में बाढ़ ने कहर बरपा रखा है। बाढ़ और भूस्खलन में 21 लोगों की मौत हो गई और 24 लापता हो गए। नेपाल के गृह मंत्रालय का कहना है कि देश के 19 जिले बाढ़ और भूस्खलन से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। देश में मानसून का मौसम पहले ही खत्म हो चुका था, लेकिन मौसम अचानक बदल गया है।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed