Neta Pratipksh : नेता प्रतिपक्ष का दायित्व...? लीडर्स की धुक-धूकी...किसे मिलेगी गुरुतर जिम्मेदारी

Neta Pratipksh : नेता प्रतिपक्ष का दायित्व…? लीडर्स की धुक-धूकी…किसे मिलेगी गुरुतर जिम्मेदारी

Neta Pratipksh: Responsibility of Leader of Opposition...? Dhuk-Dhuki of the leaders...Who will get the greater responsibility

Neta Pratipksh

रायपुर/नवप्रदेश। Neta Pratipksh : छत्तीसगढ़ में इन दिनों भारतीय जनता पार्टी की राजनीति में बड़ी हलचल देखने को मिल रही है। पार्टी सूत्रों की मुताबिक संगठन में एकाधिकार खत्म करने लगातार नए चेहरे सामने लाए जाने की मांग उठती रही है और यहीं कारण है कि प्रदेश अध्यक्ष के बाद अब नेता प्रतिपक्ष बदलने की तैयारी है। आज दोपहर को विधायक दल की बैठक में नाम भी तय हो जाने की संभावना है।

भाजपा के लगातार हार से प्रदेश नेतृत्व पर सवाल तो उठ रहे थे। छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष अरुण साव ने कहा कि रायपुर में पार्टी की बैठकें होनी है। बैठक में जो चर्चा होगी, वो सबके सामने होगा। आपको बता दें कि धर्मलाल कौशिक और मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव दोनों बिलासपुर जिले से आते हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार नेता प्रतिपक्ष दूसरे जिले का होना चाहिए।

कई गुटों में बंटे हैं बीजेपी नेता

सूत्रों के मुताबिक नए नेता प्रतिपक्ष (Neta Pratipksh) को चुनने भाजपा के विधायक 2 खेमे में बंट चुके हैं। एक खेमा चाहता है कि शिवरतन शर्मा, नारायण चंदेल और अजय चंद्राकर को बनाया जाए। वहीं दूसरा खेमा पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह या बृजमोहन अग्रवाल को नेता प्रतिपक्ष बनाना चाहता है। भाजपा हाईकमान ने किस नाम पर मुहर लगाई है, इसे लेकर प्रदेश में राजनीतिक चर्चा जारों पर है। सबकी नजर भाजपा की बैठक पर टिकी है। बता दें कि 9 अगस्त को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष को बदला गया था। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को दिल्ली बुलाया गया। इसके बाद से बदलाव की सियासी हलचल तेज हो गई थी।


JOIN OUR WHATS APP GROUP

Leave a Reply

Your email address will not be published.

COVID-19 LIVE Update