Maharashtra Politics : फडणवीस अंधेरे में बदलते थे रूप, पत्नी ने किया जबरदस्त खुलासा...पढ़ें

Maharashtra Politics : फडणवीस अंधेरे में बदलते थे रूप, पत्नी ने किया जबरदस्त खुलासा…पढ़ें

Maharashtra Politics: Fadnavis used to change appearance in the dark, wife made tremendous disclosure... read

Maharashtra Politics

मुंबई/नवप्रदेश। Maharashtra Politics : महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के इतने मजबूत किले को जीतने में जिस तरह से सीएम एकनाथ शिंदे की अहम भूमिका है, उससे कहीं ज्यादा बीजेपी नेता और पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस की चाणक्य रणनीति है।

फडणवीस ने जिस तरह से उद्धव ठाकरे को मात दी, वह राजनीति के विशेषज्ञों के लिए चौंकाने वाला है। सबके अपने-अपने दावे धरे रह गए और सूत्र भी लगभग झूठे साबित हुए। आपको बता कि, उद्धव ठाकरे को सत्ता (Maharashtra Politics) से बाहर करने के लिए शिंदे के साथ फडणवीस ने जो सीक्रेट प्लान तैयार किया, उसकी खबर उनकी पत्नियों को भी नहीं थी। खुद देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता ने इसका खुलासा किया है।

शिंदे से मिलने देवेंद्र ने कई बार बदला अपना वेशभूषा

अमृता ने बताया शिंदे गुट की बगावत और उद्धव सरकार पर सियासी संकट के बीच देवेंद्र फडणवीस चुपचाप सक्रिय थे। वे सबके सामने भले ही कहते रहे कि भाजपा का इससे कोई लेना-देना नहीं है, लेकिन एकनाथ शिंदे से मिलने के लिए देवेंद्र अक्सर वेशभूषा बदलकर रात को निकलते थे। दोनों की इस सीक्रेट मुलाकातों का ही नतीजा है कि महाराष्ट्र की राजनीति के चाणक्य शरद पवार से लेकर सीएम उद्धव ठाकरे और राजनीतिक पंडितों को भी बगावत की कानोंकान खबर तक न लगी।

आंखों पर बड़ा सा चश्मा पहनकर जाते थे बाहर

अमृता फडणवीस बताती हैं, देवेंद्र फडणवीस अक्सर रात के समय में एकनाथ शिंदे से मिलने जाते थे। इसके लिए वे अपनी वेशभूषा बदलते थे। वे इस तरह का रूप धारण कर लेते थे कि मेरे लिए भी उनको पहचान पाना मुश्किल हो जाता है। अमृता बताती हैं कि देवेंद्र अक्सर बड़ी सी जैकेट, आंखों पर बड़ा सा चश्मा और अलग-अलग कपड़े पहनकर बाहर जाते थे। अमृता आगे कहती हैं, वह यह तो नहीं जानती थीं कि क्या होने वाला है, लेकिन इतना जरूर पता था कि कुछ बड़ा होने वाला है। 

सीक्रेट प्लान की बात को शिंदे ने भी स्वीकारा

इससे पहले खुद एकनाथ शिंदे (Maharashtra Politics) भी इस बात को कह चुके हैं कि वे अक्सर रात में देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात करते थे। विधानसभा में उन्होंने कहा था कि जब सभी विधाायक सो जाते थे तब वह फडणवीस से मिलने जाते थे और उनके जागने से पहले होटल वापस चले आते थे। शिंदे का समर्थन करने वाले विधायकों को भी नहीं पता था कि वह फडणवीस से कब और कहां मिलते हैं। 


JOIN OUR WHATS APP GROUP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

COVID-19 LIVE Update