Bhent Mulakat : देखें 1 नहीं 4 नए स्कूलों की मिली सौगात... घोषणा पर झूम उठे

Bhent Mulakat : देखें 1 नहीं 4 नए स्कूलों की मिली सौगात… घोषणा पर झूम उठे

Bhent Mulakat : See the gift of 1 not 4 new schools... got shocked at the announcement

Bhent Mulakat

कोरिया/नवप्रदेश। Bhent Mulakat : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा बैकुंठपुर के पटना में हुए भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में पटना और शिवपुर-चरचा में नवीन स्वामी आत्मानंद स्कूल शुरू करने की घोषणा की गई जिससे विशेष रूप से आर्थिक कमजोर परिवारों में खुशी की लहर है।

मुख्यमंत्री द्वारा पोंडी बचरा में आयोजित भेंट मुलाकात (Bhent Mulakat) में भी खड़गवां और पोंडी बचरा में भी नवीन स्वामी आत्मानंद स्कूल शुरू करने की घोषणा की गई है। इस तरह जिले में कुल 04 नए स्वामी आत्मानन्द स्कूल शुरू किए जा रहे हैं।

कार्ययोजना बनाकर शीघ्र प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश

घोषणा को मूर्त रूप देने के लिए कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने आज शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चरचा का निरीक्षण किया। उन्होंने विद्यालय का निरीक्षण कर प्राचार्य से विद्यालय के लिए कक्ष तथा अन्य आवश्यकताओं के संबंध में चर्चा की। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को कार्ययोजना बनाकर जल्द प्रस्ताव तैयार किए जाने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर शर्मा ने अध्यापन कक्ष, प्रायोगिक लैब का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने विद्यालय के बच्चों को अपने पास बुलाया और बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा पर यहां अब स्वामी आत्मानंद स्कूल खुलने जा रहा है, उन्होंने जब पूछा कौन-कौन अंग्रेजी माध्यम में पढ़ना चाहता है तो सभी ने हाथ उठाकर एक स्वर में कहा कि हम सभी पढ़ना चाहते हैं। मुख्यमंत्री की घोषणा की जानकारी पर बच्चे भी काफी उत्साहित हुए।

अनुपस्थित शिक्षकों और स्टाफ को कारण बताओ नोटिस

कलेक्टर कुलदीप शर्मा आज विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम रनई के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की शिक्षा गुणवत्ता की जांच के लिए औचक निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान शिक्षकों के उपस्थिति रजिस्टर की जांच की तथा अनुपस्थित पाए गए शिक्षकों और कार्यालयीन स्टाफ को नोटिस जारी किए जाने के निर्देश दिए।

उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी (Bhent Mulakat) को संतोषजनक जवाब ना पाए जाने पर निलंबन की कार्रवाई किए जाने निर्देशित किया। इस दौरान वे कक्षा सातवीं में पहुंचे। कलेक्टर द्वारा पूछे जाने पर बच्चों ने बताया की अभी हिंदी की कक्षा चल रही है, उन्होंने बच्चों से पाठ पढ़वाया, वहीं कक्षा छठवीं में अंग्रेजी कक्षा में भी उन्होंने बच्चों से सवाल किए तथा शिक्षकों को बच्चों को बेहतर शिक्षा देने हेतु निर्देशित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

COVID-19 LIVE Update