Bhent Mulakat : CM मरवाही गए सौगात लेकर...इतने में रुक्मणी पहुंची अपनी जरूरत लेकर...फिर...?

Bhent Mulakat : CM मरवाही गए सौगात लेकर…इतने में रुक्मणी पहुंची अपनी जरूरत लेकर…फिर…?

Bhent Mulakat: CM went to Marwahi with a gift... Rukmani also reached there with her need...

Bhent Mulakat

रायपुर/नवप्रदेश। Bhent Mulakat : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बिलासपुर संभाग में भेंट-मुलाक़ात की शुरुआत विधानसभा क्षेत्र मरवाही से की। मुख्यमंत्री ने मरवाही में माता नागेश्वरी के प्राचीन मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की। इस दौरान सीएम बघेल मरवाही ने कई विकास कार्यों की सौगात लेकर गए तो इसी बीच ग्रामीण रुक्मणी भी अपनी जरूरतों को लेकर पहुंच गईं। फिर क्या, सीएम बघेल ने भी इस तरह राहत पहुंचाई।

आवास की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश

भेंट-मुलाक़ात (Bhent Mulakat) में ग्राम करगीकला की रुखमणी दास मानिकपुरी ने मुख्यमंत्री से आवास की माँग की। उन्होंने बताया कि उनके पास आवास नहीं है। इस पर मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को शासकीय योजना का लाभ दिलाते हुए आवास की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। रुखमणी दास मानिकपुरी को मुख्यमंत्री ने मकान जल जाने पर क्षतिपूर्ति की राशि 10 हज़ार रुपये का चेक प्रदान किया।

आदिवासी नेता पोर्ते की प्रतिमा का अनावरण

उन्होंने मरवाही के महाविद्यालय परिसर में स्थापित आदिवासी नेता स्वर्गीय डॉ. भँवर सिंह पोर्ते की आदमकद प्रतिमा का अनावरण भी किया। मुख्यमंत्री ने नागरिकों की मांग पर उच्च शिक्षा की सुविधा के लिए मरवाही के रानी दुर्गावती शासकीय महाविद्यालय में स्नातकोत्तर की कक्षाएँ, पॉलिटेक्निक महाविद्यालय, शासकीय महाविद्यालय तक डामरीकृत सड़क, दलदली नाला पर एनीकट-कम-काजवे, स्वास्थ्य सुविधा के लिए ग्राम अण्डी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए नया सेटअप और ग्राम सिवनी, खोडरी, कोडगार में नवीन पुलिस थाना की सौगात दी। CM ने मरवाही में 71.12 लाख रूपए की लागत से निर्मित नवीन तहसील भवन का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ महतारी के तैलचित्र पर दीप प्रज्वलित कर और माल्यार्पण कर भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत की। मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गौरेला-पेंड्रा-मरवाही ज़िला को बने अभी दो साल ही हुए हैं। ज़िले में लगातार जनसुविधाओं के लिए व्यवस्था बनाई जा रही है। नए कार्यालय शुरू किए जा रहे हैं। भेंट-मुलाक़ात के दौरान ग्राम पंचायत नरौर के सरपंच नरेंद्र सिंह मरावी ने शासकीय योजनाओं की खुलकर प्रशंसा की और कहा कि राज्य सरकार की योजनाओं विशेषकर गोधन न्याय योजना से ग्रामीणों में ख़ुशी आयी है।

कलेक्टर से हर शिकायत पर संज्ञान लेने के निर्देश

उन्होंने गाँव की शासकीय ज़मीन में चारागाह पर स्थानीय व्यक्ति द्वारा क़ब्ज़ा करने की शिकायत की। साथ ही गांव में सामुदायिक भवन की माँग की, जिस पर मुख्यमंत्री ने तत्काल कलेक्टर के माँग को नोट करने एवं परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए।

करगीकला के विशाल उरेती ने हाट बाजार क्लिनिक योजना की प्रशंसा करते हुए बताया कि उनके गाँव समेत रानीकुल्ली, गुल्लीडांढ में नियमित रूप से हाट बाज़ार क्लिनिक लगाया जाता है। उन्होंने स्वयं भी शारीरिक समस्या होने पर हाट बाज़ार क्लिनिक में जाकर निःशुल्क अपना उपचार कराया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वामी आत्मानंद स्कूल की छात्रा काँची घृतेश से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने छात्रा से कहा कि वे छत्तीसगढ़ी में सवाल करेंगे जिसका छात्रा को अंग्रेज़ी में जवाब देना होगा। जिस पर छात्रा ने भी फ़र्राटेदार अंग्रेज़ी में जवाब दिया। मुख्यमंत्री ने स्कूल में पढ़ाई और सुविधाओं के संबंध में चर्चा की और कुमारी कांची को नियमित पढ़ाई के लिए प्रेरित किया।

भेंट-मुलाकात (Bhent Mulakat) के दौरान क्षेत्रीय विधायक डॉ. के.के. ध्रुव, बिलासपुर विधायक डॉ. शैलेष पांडेय, छत्तीसगढ़ अनुसूचित जनजाति आयोग की सदस्य अर्चना पोर्ते, छत्तीसगढ़ युवा आयोग के सदस्य उत्तम वासुदेव, बिलासपुर ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष अरुण सिंह चौहान भी उपस्थित थे।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed