दहेज का सामान बना बेटी के पिता की मौत का कारण - Navpradesh

दहेज का सामान बना बेटी के पिता की मौत का कारण

बेटी के ससुराल के दरवाजे पर खून से लथपथ बचाने की गुहार लगाते हुए 2 घंटे तक तड़पता रहा बेटी का पिता
रिश्ता टूटने के बाद बेटी को दहेज में दिए सामान को पिता ने वापस मांगा तो लड़के पक्ष के लोगों ने पिटाई करते हुए कर दी थी हत्या
नवप्रदेश संवाददाता
बैकुंठपुर। बेटी को दहेज में दिए सामनों को वापस मांगने पर दहेज के सामानों के बदले पिता को मिली मौत, बेटी के ससुराल के दरवाजे पर 2 घंटों तक खून से लथपथ तड़पते देखने के बाद भी कोई ग्रामीण हास्पीटल पहुंचाने या पुलिस को सूचना देना उचित नहीं समझा। वहीं सूचना मिलने के बाद मौके पर जिस समय पुलिस पहुंची उस समय बचाओ बचाओ कह कर बेटी का पिता अंम्बिका साहू अंतिम सांसें गिन रहा था। पुलिस हास्पीटल लेकर पहुंची तब डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं पुलिस को यदि समय पर सूचना मिलती तो बच सकती थी उसकी जान।
मिली जानकारी के अनुसार सूरजपुर जिले के बंजा निवासी अम्बिका साहू 45 वर्ष की पुत्री की शादी कोरिया जिले के ग्राम पंचायत कसरा के छत्ता सरई निवासी शिव नारायण साहू के बेटे के साथ 1 वर्ष पूर्व हुई थी, किसी कारण वश रिश्ता टूट जाने के कारण अम्बिका साहू द्वारा अपनी बेटी के शादी के समय दिए सामानों को कई बार वापस मांगा गया लेकिन शिव नारायण साहू व उसके बेटे द्वारा वापस नहीं दिया गया। शनिवार शाम को अम्बिका साहू अपने पड़ोसी बली राम व इस्तखार हुसैन को मोटर साईकिल से लेकर फि र से दहेज का सामान वापस मांगने कसरा छत्तासरई बेटी के ससुराल पहुंचा, जहां विवाद बढ़ गया और लड़के के पिता शिव नारायण साहू एवं उसका बेटा सूरज साहू द्वारा अम्बिका साहू के साथ बेदम मारपीट कर दी। जिससे उसके शरीर में काफ ी चोटें आईं व उसी के घर के आगे सड़क पर बेहोश होकर गिर गया। यह सब देख अम्बिका साहू के साथ आए दोनों लोग जान बचाकर वहां से भाग गए मगर पुलिस को न तो उन दोनों ने सूचना दी और न ही गांव वालों ने सूचना दी। लगभग दो घंटा बाद किसी ने फोन पर पटना के सब इन्सपेक्टर शिव कुमार यादव को सूचना दी घटना की सूचना पाकर सब इन्सपेक्टर शिव कुमार यादव स्टाफ के साथ घटना स्थल पर पहुंचे उस समय मृतक अम्बिका साहू खून से लथपथ तड़प रहा था और मुझे बचा लो की आवाज निकाल रहा था। उसे तत्काल पटना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पीएम के पश्चात शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया। इस घटना को लेकर परिजनों का रो रोकर बुरा हाल था वही पुलिस ने परिजनों की शिकायत के आधार पर मामला पंजीबद्व कर आरोपी की तलाश में जुट गई है। पुलिस ने इस मामले में मिली जानकारी अनुसार तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। जांच प्रक्रिया पूरी होने के पश्चात पटना पुलिस इस मामले पर खुलासा करने की बात कह रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update