गजब ! फरार गैंगस्टर ने चुनाव लड़ा, जीता और यहां तक कि गांव का मुखिया भी बना, पुलिस को पता ही नहीं…

amazing, The absconding gangster contested the election, won and even became the head of the village, the police did not know,

absconding gangster

मुरादाबाद। absconding Gangster: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक अजीबोगरीब घटना सामने आई है। उत्तर प्रदेश पुलिस इनामी कुख्यात गैंगस्टर की तलाश कर रही थी उसी समय उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव शुरू हो गए हैं। आरोपी ने चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया था। उसके चुनाव जीता और ग्राम प्रधान के रूप में शपथ भी ली। तब तक पुलिस को इसकी भनक ही नहीं लगी।

संजय सिंह (absconding Gangster) के रूप में पहचाने जाने वाले कुख्यात आरोपी को 50 लाख रुपये की 30,000 लीटर नकली शराब के साथ गिरफ्तार किया गया था। आरोपी को इस मामले में मई में जमानत मिली थी। हालांकि पुलिस अन्य मामलों में उसकी तलाश कर रही थी।

कुछ दिनों तक तलाश के बाद पुलिस उसका पता नहीं लगा पाई। पुलिस ने संजय सिंह के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने 20 हजार रुपये के ईनाम की भी घोषणा की।

चुनाव लड़ा गया और जीता गया

इस बीच मुरादाबाद के निवाद गांव में चुनाव शुरू हो गया है। संजय सिंह ने नामांकन पत्र दाखिल किया। चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। इसके बाद उन्हें गांव के सरपंच के रूप में शपथ ली। इतना सब होने के बाद भी पुलिस को इसका पता नहीं चला।

इस बीच स्पेशल टास्क फोर्स ने संजय सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस को इस तरह की जानकारी नहीं होने पर संबंधित पुलिस के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। पुलिस उप महानिरीक्षक शलभ माथुर ने जांच के निर्देश दिए हैं। मामले में पुलिस इंस्पेक्टर धर्मेंद्र सिंह, महेश चंद्र शर्मा, महिला पुलिस कर्मी सरोज और कांस्टेबल मोहित नौटियाल पर मुकदमा चलाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *