फसल का एक भी दाना खराब हुआ तो जिम्मेदार अधिकारियों पर होगी कार्रवाई- अमरजीत भगत

नवप्रदेश संवाददाता
सूरजपुर। छत्तीसगढ़ के 65 लाख परिवारों के पेट की चिंता का समाधान करने का अवसर मिलना सौभाग्य की बात है, साथ ही प्रदेश के किसानों के एक-एक दाना फसल की खरीदी से लेकर रख-रखाव और निस्तारी की जिम्मेदारी मिलने से खुश हूं। यह जिम्मेदारी पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ निभाऊंगा।
उक्त बातें प्रदेश के नवनियुक्त खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने सूरजपुर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए व्यक्त की और कहा कि किसानों द्वारा तैयार की गई फसल का एक-एक दाना खराब ना हो। इसके लिए जरूरी निर्देश जारी किए गए हैं। उनके मेहनत और लगन से तैयार की गई फसल की सुरक्षा में चूक होने पर जिम्मेदार अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति को जीवंत रखना छत्तीसगढ़ी भाषा संस्कृति और सांस्कृतिक विरासत को बनाए रखने के लिए सरकार पूरी तरह से निष्ठावान है और इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।

जोगी समर्थकों के कांग्रेस प्रवेश पर ये कहा अमरजीत भगत ने
भूपेश बघेल सरकार में 13 वें मंत्री बने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि सरकार में आने के बाद वैसे तो जन सामान्य के नाते सभी का ध्यान रखना सरकार का काम होता है। इसके बावजूद कांग्रेस में कौन रहेगा, कौन नहीं रहेगा, किसकी होगी वापसी और किससे पार्टी करेगी परहेज यह विषय पार्टी नेतृत्व को करना है। हम जन सामान्य के नाते सभी का सम्मान करते हैं।
सूरजपुर जिले से है विशेष लगाव
मंत्री बनने के बाद पहली बार सूरजपुर पहुंचे संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि सूरजपुर जिले में उनका जन्म हुआ है राजनीति की शुरुआत उन्होंने इसी जिले से की है, यहां बचपन को जिया है और यहां के देवी देवताओं का उन्हें आशीर्वाद प्राप्त है, इसीलिए वे आज सूरजपुर जिले के देवीपुर स्थित मां महामाया और कुदरगढ़ स्थित मां बागेश्वरी देवी के दर्शन के लिए निकले हैं। रास्ते में समर्थकों और शुभचिंतकों के द्वारा स्नेह बरसाया गया है जिसका सम्मान करते हैं। और इस स्वागत और स्नेह से अभिभूत हैं।
बड़ी जिम्मेदारी मिलनी थी इसलिए हुआ दायित्व मिलने में विलंब
प्रदेश के 65 लाख परिवारों से सीधी कनेक्टिविटी और उनकी जरूरतों से जुड़े विभाग की जिम्मेदारी मिलना सौभाग्य की बात है। यह जिम्मेदारी मुझे जरूर 6 माह विलंब से मिली लेकिन एक बड़े बजट वाले विभाग की जिम्मेदारी होने के कारण विलंबता संभव है। दी गई जिम्मेदारी के लिए उन्होंने राष्ट्रीय नेतृत्व राहुल गांधी, मोतीलाल बोरा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के अलावा प्रदेश प्रभारी और महासचिव द्वय के प्रति कृतज्ञता जताई।
2 अक्टूबर से बीपीएल के साथ एपीएल परिवारों को भी मिलेगा सस्ता खाद्यान्न
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि 8 जुलाई से राशन कार्ड के सत्यापन और नाम जोडऩे का कार्य की शुरुआत होगी जो अगस्त माह तक पूरी कर ली जाएगी उसके बाद 2 अक्टूबर से नई खाद्यान्न योजना की शुरुआत की जाएगी। जिसमें गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के साथ-साथ एपीएल परिवारों को भी खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा। योजना में कुछ परिवर्तन किया गया है। घोषणा पत्र के अनुसार एकल व्यक्ति के राशन कार्ड में खाद्यान्न की मात्रा 7 से बढ़ाकर 10 किलो कर दिया गया है
, वही 2 सदस्य परिवार के राशन कार्डों में 20 किलो और उससे अधिक परिवार की संख्या होने पर 35 किलो और उससे अधिक खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत के सूरजपुर प्रवास पर आज जगह-जगह उनका फूल माला और आतिशबाजी से स्वागत किया गया। इस दौरान प्रेमनगर विधायक एवं सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अश्वनी सिंह, नरेश राजवाड़े, राजीव सिंह, छतरलाल सांवरे, संजय डोसी, कुसुमलता राजवाड़े, शशी सिंह, दीप्ति सवाई, इस्माइल खान, जफर हैदर, मनोज डालमिया, शरद सिंह, प्रदीप साहू, शक्ति ठाकुर आकाश साहू के अलावा सरगुजा से पहुंचे अरविंद गुप्ता, राजू बाबरा, संजय गुप्ता, अवधेश गुप्ता, दीपक मिश्रा, लालचंद यादव, बाबूलाल आदित्य भगत समेत जिला प्रशासन के अधिकारी व कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *