MP अजब है! कर्ज के कारण खुदकुशी करने वाले किसान को लेकर प्रशासन ने कहा- पत्नी से हुआ था झगड़ा, परिजन बोले- पत्नी पहले ही हो चुकीं शांत तो फिर दी ये सफाई

sehore farmer suicide, sehore district administration calrification,

sehore farmer suicide

सीहोर/नवप्रदेश। मध्य प्रदेश के सीहोर (sehore farmer suicide) में किसान की आत्महत्या मामले को प्रशासन की ओर से नया मोड़ दिया गया है। प्रशासन (sehore district administration calrification) ने पहले तो बताया कि किसान का खुदकुशी से एक दिन पहले पत्नी से झगड़ा हुआ था। लेकिन मृत किसान के परिजन द्वारा मीडिया में बताया गया कि किसान की पत्नी का पहले ही शांत हो चुकी है।

सीहोर (sehore farmer suicide) के खुदकुशी करने वाले किसान के परिजन के इस बयान के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस भाजपा सरकार पर हमलावार हो गई। कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर किसानों के मुद्दे पर घेरना शुरू कर दिया। मामले गंभीरता को देखते हुए इस किसान खुदकुशी मामले में प्रशासन (sehore district administration clarification) की ओर से नई दलील दी गई। सीहोर कलेक्टोरेट के फेसबुक पेज पर पर बताया गया कि टंकन त्रुटि की वजह से पुत्र की जगह पत्नी लिखा गया।

ये कहा नई दलील में

clarification of sehore district administration on sehore farmer suicide case

इस नई दलील में बताया गया कि अनुविभागीय अधिकारी सीहोर आदित्य जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि सीहोर अनुविभाग क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम नापलाखेड़ी में ग्रामीण नन्नूलाल द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना प्राप्त हुई। कृषक नानूलाल का घटना के 1 दिन पूर्व शाम को अपने पुत्र से झगड़ा हो गया था जिसकी सूचना नानूलाल ने डायल 100 पर भी दी थी। इससे पहले भी मृतक नन्नूलाल द्वारा कलेक्ट्रेट में इसी मामले को लेकर आवेदन भी दिया गया था।

उप्र के हाथरस में युवती से सामूहिक दुष्कर्म व जीभ काटे जाने के बाद उसकी मौत और आनन फानन में अंतिम संस्कार को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का सीएम योगी पर बड़ा हमला, देखें वीडियो

,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *