Second Sero Survey Report : हर वो 15वां शख्स कोरोना संक्रमित…, ICMR ने राज्यों से की ये अपील, छत्तीसगढ़ में…

second sero survey report, each 15th person above age of 15 is corona positive, chhattisgarh in second sero report, navpradesh,

second sero survey report, each 15th person above age of 15 is corona positive, chhattisgarh in second sero report,

नई दिल्ली/ए.। कोरोना को लेकर दूसरी सीरो सर्वे रिपोर्ट (second sero survey report) जारी कर दी गई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक 10 साल से अधिक की उम्र वाला हर 15वां शख्स (each 15th person above age of 15 is corona positive)  कोरोना संक्रमित हो चुका है। आईसीएमआर (ICMR) व केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव की ओर से ये दूसरी सीरो सर्वे रिपोर्ट जारी  की गई है।

इसमें और भी कई खुलासे किए गए हैं। DG ICMR बलराम भार्गव ने रिपोर्ट (second sero survey report) जारी करते हुए बताया कि देश के 10 साल से अधिक उम्र का हर 15 वां शख्स (each 15th person above age of 15 is corona positive) कोरोना संक्रमित हो चुका है। रिपोर्ट में छत्तीसगढ़ (chhattisgarh in second sero report)  को लेकर खास बात यह है कि यहां कुछ अन्य राज्यों की तरह कोरोना के नए मामलों में गिरावट देखी जा रही है।

छत्तीसगढ़ समेत इन राज्यों में कोरोना के नए मामलों में गिरावट

दरअसल दूसरी सीरो रिपोर्ट के मुताबिक, बुरी तरह प्रभावित 5 राज्यों में सुधार के स्पष्ट संकेत के बाद कुछ अन्य राज्य भी हैं जहां कोरोना के नए मामलों में गिरावट देखी जा रही है। इन राज्यों में बिहार, हरियाणा, पंजाब के साथ ही छत्तीसगढ़ (chhattisgarh in second sero report) और झारखंड भी शामिल हैं। भार्गव ने आगे कहा कि सीरो रिपोर्ट में एक बड़ी आबादी के कोरोना की चपेट में आने की आशंका जताई गई है। ऐसे में 5 टी स्ट्रैटिजी (टेस्ट, ट्रैक, ट्रेस, ट्रीट और टेक्नॉलजी) को अपनाना होगा। उन्होंने कहा कि दूसरी सीरो रिपोर्ट के मुताबिक, अगस्त तक 10 साल से ऊपर का हर 15वां शख्स कोरोना की चपेट में आ चुका है।

आईसीएमआर ने अगले कुछ महीनों के लिए किया आगाह

आईसीएमआर के डीजी ने राज्य सरकारों से आगामी त्योहारी सीजन, सर्दी के मौसम को देखते हुए वे खास सतर्कता बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अगले कुछ महीनों के दौरान कई बड़े त्योहार, सर्दी के मौसम और बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की आशंका के मद्देनजर राज्य सरकारों को नई कंटेनमेंट स्ट्रैटिजी को अपनाना होगा।

राहतभरी ये चार बातें भी

ग्रामीण इलाके कम प्रभावित

भार्गव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक और बड़ी बात कही। उन्होंने बताया कि दूसरी सीरो रिपोर्ट (second sero survey report) के मुताबिक, कोरोना वायरस से ग्रामीण इलाके ज्यादा प्रभावित नहीं हुए हैं। उन्होंने कहा, ‘दूसरी सीरो सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरी स्लम और शहरी नॉन-स्लम एरिया हैं। ग्रामीण क्षेत्र अपेक्षाकृत कम प्रभावित हैं।

लंबे समय के बाद नए मामले कम हुए

रिपोर्ट के मुताबिक पहली बार भारत में कोरोना के मामलों में इतने लंबे समय तक लगातार गिरावट देखने को मिली है। ये गिरावट एवरेज डेली टेस्ट बढ़ने के बावूजद भी देखने में मिली  है। नए मामलों में थोड़ी ही सही लेकिन लगातार गिरावट उम्मीदें बढ़ाने वाली है। इसी तरह टेस्ट पॉजिटिविटी रेट भी 8.7 प्रतिशत से गिरकर 7.7 प्रतिशत पर आ चुका है।  

मरीजों की ठीक होने की दर 83.01 प्रतिशत

भारत में अब मरीजों के ठीक होने की दर 83.01 प्रतिशत हो चुकी है। संक्रमण से मुक्त होने वाले लोगों की कुल संख्या 51,01,397 हो गई है। देश में अभी 9,47,576 मरीजों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है, जो कुल मामलों का 15.42 फीसदी है। ठीक हो चुके मरीजों की संख्या ऐक्टिव केसों से 41.5 लाख से ज्यादा हो चुकी है।

10 लाख आबादी पर मृतकों की संख्या दुनिया में भारत में सबसे कम

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि सितंबर महीने में देशभर में करीब 3 करोड़ कोरोना टेस्ट हुए हैं। देश में प्रति 10 लाख आबादी पर टेस्ट की संख्या 50 हजार के आंकड़े को पार कर गई है। राजेश भूषण ने कहा कि प्रति 10 लाख आबादी पर मृतकों की संख्या भारत में पूरी दुनिया में सबसे कम है। इसके अलावा भारत में अब तक 51 लाख कोरोना मरीज पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं, जो पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है।

रिपोर्ट की अन्य खास बातें

– महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में पिछले एक हफ्ते से ज्यादा वक्त से नए मामलों में गिरावट दिख रही है।

-सर्वाधिक प्रभावित 20 राज्यों में 6 राज्य ऐसे भी हैं जहां कोरोना के नए मामले अभी भी बढ़ रहे हैं। इनमें पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश शामिल हैं।

-जम्मू-कश्मीर, असम, तेलंगाना और दिल्ली में डेली केसेज में गिरावट के दौर के बाद फिर से केस बढ़ने लगे हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *