Robbary : 50 लाख लूट के मास्टर माइंड ने मीडिया के सामने किया सरेंडर, इस वजह से हुआ चोरी में शामिल - Navpradesh

Robbary : 50 लाख लूट के मास्टर माइंड ने मीडिया के सामने किया सरेंडर, इस वजह से हुआ चोरी में शामिल

Robbary,

रायपुर, नवप्रदेश। 50 लाख की लूट के मामले का मास्टर माइंड अजय उर्फ अज्जू ने मंगलवार को रायपुर के मीडिया हाउस में पहुंचकर सरेंडर (Robbary) कर दिया।

जहां से एंटी क्राईम एंड साइबर यूनिट की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। बीते 8 दिनों से जिस आरोपी को पुलिस ढूंढ रही थी, उस ने खुद सामने आकर सरेंडर किया। मीडिया के सामने अज्जू ने कई खुलासे किए।

अब पुलिस की टीम अज्जू से पूरी वारदात (Robbary) को लेकर पूछताछ करेगी। 50 लाख की लूट केस में अज्जू ही फरार था। इससे पहले पुलिस ने बीते 3 दिनों में वारदात में शामिल 14 बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

बहन की शादी के लिए थी पैसों की जरूरत, इसीलिए डकैती (Robbary) में हुआ शामिल

मीडिया के सामने अज्जू ने कबूल किया कि उसे अपनी बहिन की शादी के लिए पैसों की जरूरत थी इसलिए वो डकैती में शामिल हुआ। इस कांड का दूसरा मास्टरमाइंड देवेंद्र अज्जू का का दोस्त है।

उसी के कहने पर वह इस लूट में शामिल हुआ। वारदात के बाद अज्जू को 3 लाख 5 हजार रुपए मिले उसमें डेढ़ लाख अपनी मां को दिए। 55 हजार रुपए शॉपिंग में उड़ा दिए। लूट कांड में अज्जू का नाम सामने आने के बाद उसकी बहिन की शादी भी टूट गई।

अज्जू हरियाणा में छुपा बैठा था और अब रायपुर में आकर सरेंडर किया। सरेंडर करवाने उसकी मां भी साथ मौजूद रही। अज्जू की मां ने बताया कि उसे इस वारदात के बारे में कोई भी जानकारी नहीं थी,

मगर मीडिया में नाम आने के बाद जब उसने अज्जू से पूछताछ की तो अज्जू ने अपना जुर्म कबूल लिया। इसी कारण वह अब अज्जू का सरेंडर चाह रही थी। हालांकि परिवार को ये डर भी है कि पुलिस या इस वारदात में शामिल अन्य आरोपी अज्जू और उसके परिवार को नुकसान पहुंचा सकते हैं। उसकी मां ने ये भी कहा कि उसके बेटे को सजा मिलनी चाहिए।

अज्जू ही कैश वाला बैग लेकर भागा-

मीडिया के सामने अज्जू ने बताया कि 16 मई की वारदात में वह शामिल था। उसको व्यापारी की आंखों में मिर्ची झोकने की जिम्मेदारी दी गई थी। जैसे ही व्यापारी दुकान से बाहर निकला अज्जू अपनी बाइक पर अन्य साथियों के साथ पीछा करने लगा।

पिछली सीट पर इसका साथी तिलक बैठा था, उसने कारोबारी को बत्ता मारकर गिरा दिया और अज्जू कैश वाला बैग लेकर भाग गया। सभी बदमाश अभनपुर इलाके के पास मिले और रुपए बांटकर फरार हो गए।

5० लाख पर सस्पेंस बरकरार-

अज्जू मीडिया को बताया कि कैश वाले बैग में 50 लाख थे या नहीं इस बारे में वो नहीं जानता। देंवेंद्र ने उसे बैग में 15 से 16 लाख होने की बात बताई थी। पुलिस को अब तक बदमाशों से 13 लाख के करीब रकम मिली है।

अज्जू से मिले कैश के बाद ये राशि 16 लाख के करीब ही पहुंचेगी। लूट का शिकार हुए कारोबारी नरेंद्र खेतपाल और उसके बेटे ने दावा किया कि जिस वक्त वारदात हुई तब उनके पास 50 लाख रुपए से भरा हुआ बैग था जो बदमाश लूट कर भाग गए।

ग्रामीण एसपी कीर्तन राठौर ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने कारोबारी को नोटिस दिया है। कारोबारी से इस बात की जानकारी मांगी गई है कि दावे के मुताबिक वो 50 लाख कहां से लेकर आया, इसका हिसाब दे।


JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update