देश में बढ़ती महंगाई मोदी निर्मित आपदा : मोहन मरकाम

देश में बढ़ती महंगाई मोदी निर्मित आपदा : मोहन मरकाम

Rising inflation in the country is a Modi-made disaster, Mohan Markam,

mohan markam

रायपुर/नवप्रदेश। rising inflation: केंद्र सरकार द्वारा रसोई गैस, पेट्रोल-डीजल के दाम में की गई वृद्धि को बेरहमी भरा कदम बताते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि देश में बढ़ती महंगाई मोदी निर्मित आपदा है। महंगाई कम करने का वादा कर सत्ता में आयी मोदी सरकार जनता को महंगाई से राहत दिलाने में नाकाम हो गई। पांच राज्यों के चुनाव में जीत के बाद मोदी सरकार पहले से ज्यादा अहंकारी और गैर जिम्मेदार हो गई है।

आम जनता रोजी रोजगार के गंभीर संकट से जूझ रही है। मोदी सरकार के गलत नीतियों के चलते आम आदमी, मध्यमवर्गीय परिवार, ठेला-खोमचा वाले देहाड़ी मजूदरों की आय घटी है और महंगाई की मार दोहरी तिहारी बढ़ी है। पेट्रोल-डीजल के दामों एवं गैस सिलेंडर की कीमतों में ?50 की वृद्धि मोदी सरकार की मुनाफाखोरी के प्रति लोलुप्ता को दर्शाता है। भाजपा जिस थाली में खाती है उसी में छेद करती है।

जिस जनता के दम पर भाजपा 4 राज्यों में सरकार बनाई उसी जनता की रसोई में सेंध लगाकर भाजपा अपने वास्तविक चरित्र को दिखा रही है। देश में पेट्रोल, डीजल और गैस सिलेंडर के बढ़ते दामों ने जनता की कमर तोड़ दी है। पिछले आठ साल में केंद्र सरकार ने बार-बार पेट्रोल और डीजल पर करों में वृद्धि कर जनता से 26 लाख करोड़ रुपये वसूल लिए हैं।

भारत के लोगों को धोखा देने और उनकी मेहनत की कमाई से लूट होने का सबसे बड़ा सबूत इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले आठ साल में कच्चे तेल की कीमतें यूपीए शासन की तुलना में बेहद कम रही हैं। फिर भी घरेलू गैस, डीजल और पेट्रोल की कीमतें कांग्रेस सरकार के दरों की तुलना में बहुत अधिक हैं। पिछले 8 वर्षों में घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत दोगुनी से भी अधिक हो चुकी है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि 2014 में घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत मात्र 410 रुपये थी। भाजपा राज में एक तरफ मोदी सरकार के खरबपति मित्रों की आय बढ़ती जा रही है और दूसरी तरफ आमजनों के लिए आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ते जा रहे हैं। कुछ उद्योगपतियों की उंगलियों पर बेशर्मी से नाच रही केंद्र की मोदी सरकार को चुनाव खत्म होते ही देश की 130 करोड़ जनता से कोई सरोकार नहीं रहा।

देश में पहले से ही गरीबी, महंगाई और बेरोजगारी ने उत्पात मचा रखा है, मगर जनता की चुनी हुई केंद्र सरकार उद्योगपतियों को राहत देने में लगी है। देश में हर रोज गरीबों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है, हर रोज किसी न किसी उपक्रम पर ताला लग रहा है, हर रोज सैकड़ों लोग बेरोजगार हो रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि पेट्रोलियम कंपनियों से वही सीधा डीजल खरीदते हैं जो आम उपभोक्ताओं के दैनिक उपयोग की वस्तुएं और अन्य प्रकार के सामग्रियों का निर्माण करते हैं। एक ओर मोदी सरकार जिन वस्तुओं पर 5 प्रतिशत जीएसटी लग रही थी उसे बढ़ाकर 8 प्रतिशत करने जा रही है दूसरी ओर इंडस्ट्रियल डीजल के दामों में 25 प्रतिशत वृद्धि कर अपने चंद्र उद्योगपति मित्रों के मुनाफाखोरी को बढ़ा रही है ।

आम जनता के दैनिक उपयोग की वस्तुओं को महंगा कर रही है मोदी सरकार के इस निर्णय से अब खाद्य तेल, शक्कर, किचन के सभी समान और सीमेंट स्टील के दाम बेतहाशा बढ़ेंगे साथ यात्री किराया और परिवहन भाड़ा भी बढ़ जाएगी। उद्योगपतियों के डीजल में जो 25 रु की बढ़ोतरी की है उसके एवज में अब उद्योगपति अपने यहां बनने वाले वस्तुओं के दामों में 2 गुना 3 गुना वृद्धि कर आम जनता से कमाई करेंगे।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed