BREAKING : 14 साल की लड़की बनी मां, 84 साल के बजुर्ग का होगा डीएनए टेस्ट

rape, 14 year girl, mother, supreme court, 84 year accused, dna test, navpradesh

rape 14 year girl mother dna test

कोलकाता/ए.। दुष्कर्म (rape) के चलते 14 साल (14 year girl) की नाबालिग लड़की के मां (mother) बनने के मामले में सुप्रीम कोर्ट (supreme court) ने आरोपी 84 वर्षीय (84 year accused) बुजुर्ग का डीएनए टेस्ट (dna test) कराने का आदेश दिया है। मामला पश्चिम बंगाल के मािटगारा इलाके का है। मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट (supreme court) ने कहा कि लड़की ने बच्चे का जन्म दिया है। इस बच्चे के पिता का पता लगाने के लिए आरोपी का डीएनए टेस्ट कराना जरूरी है।

ये घटना 2012 की है। इस पूरे मामले का आरोपी 84 वर्ष (84 year accused) का बुजुर्ग है। उस पर 14 साल (14 year girl) की लड़की से दुष्कर्म (rape) का आरोप है। वह लड़की मां बन गई। अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी का डीएनए टेस्ट (dna test) कराने का निर्देश दिया है।

आरोपी के वकील कपित सिब्बल ने आरोपी के बचाव में दलीलें दी हैं। कपिल सिब्बल ने कहा है कि इस व्यक्ति की उम्र व स्वास्थ्य को देखते हुए ऐसा नहीं लगता कि इसने दुष्कर्म किया होगा।  

इसके पूर्व 84 वर्षीय वृद्ध ने कोलकाता उच्च न्यायालय में जमानत के लिए याचिका दाखिल की थी, लेकिन उसकी याचिका अस्वीकार कर दी गई। जिसके बाद मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा। जब लड़की के साथ दुष्कर्म (rape) हुआ उस वक्त आरोपी की उम्र 76 वर्ष थी। मामले की सुनवाई के दौरान न्यायमूर्ति अशोक भूषण ने आरोपी वृद्ध का डीएनए  टेस्ट कराने का आदेश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *