Exclusive : इंडोर स्टेडियम के कोविड सेंटर में सारी सुविधा, फिर भी इन दो चीजों की दरकार, लोकवाणी को…

raipur indoor stadium, covid centre, facilities for patients in raipur indoor stadium, navpradesh

raipur indoor stadium, facilities of patients in indoor stadium

रायपुर/नवप्रदेश। रायपुर के इनडोर स्टेडियम (raipur Indoor stadium) में बनाए गए कोविड सेंटर (covid centre) में कोरोना मरीजों के लिए हर जरूरी सुविधा (facilities for patients in raipur indoor stadium) उपलब्ध है। कोरोना के मरीजों को समय पर चाय, नाश्ता, खाना, गरम पानी मिलता है। पीने का गरम पानी दिनभर आते रहता है। यहां तक कि सफाई कर्मी बाथरूम व टॉयलेट की  सफाई भी ठीक ढंग से कर रहे हैं। यहीं नहीं इस कोविड सेंटर (covid centre) में मरीजों को व्यायाम के लिए दो मशीनें भी रखी गई हैं।  ये मशीनें ठीक ढंग से काम भी कर रही  हैं।

फिर भी रायपुर के इंडोर स्टेडियम (raipur indoor stadium) में दो बेहद अहम चीजों की कमी है। रायपुर के इनडोर स्टेडियम के कोविड सेंटर में मेडिकल टीम द्वारा हर दिन दो बार ऑक्सीजन लेवल व टेंप्रेचर चेक किया जाता है। दवाइयां भी  समय पर दी जाती है।

उक्त सभी सभी तमाम सुविधाओं (facilities for patients in raipur indoor stadium) के बावजूद भी यदि किसी मरीज हालत ज्यादा बिगड़ जाए और उसे किसी अस्पताल में रेफर किया जाए तो उस स्थिति में संबंधित मरीज को कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

व्हील चेयर व स्ट्रेचर की नितांत आवश्यकता

दरअसल इनडोर स्टेडियम में क्रिटिकल पेशेंट के लिए व्हील चेयर या स्ट्रेचर की सुविधा नहीं है। लिहाजा ऐसे मरीजों को दूसरे अस्पतालों में रेफर किए जाने पर उन्हें गेट के पास खड़ी एंबुलेंस तक जाने के लिए भी खुद ही जाना पड़ता है। डॉक्टर्स की टीम संबंधित मरीज के नाम का अनाउंसमेंट तो करती है।

लेकिन यदि मरीज चल पाने में अक्षम हो तो भी उसे खुद ही एंबुलेंस तक जाना होता है। इस संबंध में मेडिकल टीम के एनएचएम अंतर्गत एक डॉक्टर से बात करने पर उन्होंने भी माना कि व्हील चेयर और स्ट्रेचर की सुविधा जरूरी है। उन्होंने बताया कि व्हील चेयर व स्ट्रेचर  की जरूरत से वरिष्ठों को अवगत करा दिया गया है। 

मुख्यमंत्री की ‘लोकवाणी’ को यहां भी ध्यान से सुनते हैं मरीज 

इस कोविड सेंटर में मरीज मुख्यमंत्री के मासिक रेडियो कार्यक्रम लोकवाणी को भी ध्यान से सुनते हैं। स्टेडियम में लोकवाणी के प्रसारण की व्यवस्था की वहां लगे दृश्य व श्रव्य माध्यमों के जरिए की जाती है। इन माध्यमों का इस्तेमाल समय-समय पर मरीजों के इंटरटेनमेंट के लिए भी किया जाता है। कोविड सेंटर में ड्यूटी कर रहे डॉक्टर मिहिर साहू के मुताबिक यहां स्वतंत्रता दिवस समारोह भी सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन करते हुए मनाया गया।

चाहकर भी मदद नहीं कर पाते दूसरे मरीज

रायपुर के इंडोर स्टेडियम (raipur indoor stadium) के कोविड सेंटर में यदि किसी मरीज की स्थिित बिगड़ जाए तो दूसरे मरीज कोरोना के खौफ के कारण चाहकर भी उस मरीज की मदद नहीं कर पाते। इनडोर स्टेडियम के कुछ मरीजों से इस संबंध में बात करने पर उनका कहना था कि- ‘यदि डॉक्टरों की तरह पीपीई किट की व्यवस्था अंदर करा  दी जाए तो वे िक्रटिकल मरीज की मदद  कर सकते हैं।

जरूरत पड़ी तो पीपीई किट पहन कर वे िक्रटिकल मरीज को ऑक्सीजन रूम व एंबुलेंस तक पहुंचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से कोरोना से जुड़ीं खबरें मीडिया में आ रही हैं, उससे उन्हें भी डर लगता है, लेकिन ऐसी विपरीत परिस्थिति में मन खुद को कोसता भी है कि आखिर हम इंसानियत को भूल रहे हैं। ऐसी स्थिति में पीपीई किट दूसरों की मदद करने के लिए कारगर साबित हो सकती है।’      

navpradesh tv

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *