Positivity Rate : 21 जिलों में नया मामला नहीं…प्रदेश में पॉजिटिविटी दर 0.08%

Positivity Rate: No new case in 21 districts...Positivity rate 0.08% in the state

Positivity Rate

कबीरधाम, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, बलरामपुर, सुकमा, नारायणपुर में कोरोना मरीज नहीं

रायपुर/नवप्रदेश। Corona Positivity Rate : प्रदेश के 21 जिलों में 24 नवम्बर को कोरोना का कोई नया मामला नहीं आया है। इस दिन प्रदेश भर में हुए 24 हजार 306 सैंपलों की जांच में 19 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए। अभी प्रदेश की औसत पॉजिटिविटी दर 0.08 प्रतिशत है। राज्य के पांच जिलों कबीरधाम, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, बलरामपुर-रामानुजगंज, सुकमा और नारायणपुर में अभी कोरोना का एक भी सक्रिय मरीज नहीं है।

राजनांदगांव, बेमेतरा, बालोद, कबीरधाम, धमतरी, बलौदाबाजार-भाटापारा, महासमुंद, गरियाबंद, बिलासपुर, मुंगेली, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, सरगुजा, कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर-रामानुजगंज, बस्तर, कोंडागांव, सुकमा, कांकेर, नारायणपुर और बीजापुर जिले में 24 नवम्बर को कोरोना संक्रमण का एक भी मामला नहीं आया है। इस दिन रायगढ़, कोरबा, जांजगीर-चांपा और दंतेवाड़ा में एक-एक, जशपुर में तीन, रायपुर में पांच और दुर्ग में सात व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए। प्रदेश में अभी सक्रिय कोरोना मरीजों की संख्या 310 है।

त्योहारों के बाद भी मामलों में आई कमी

आपको बताते चले कि, त्योहारों के बाद भी देश में कोरोना के मामलों में कमी (Corona Positivity Rate) बनी हुई है। तेजी से हो रहे टीकाकरण और कई इलाकों में संक्रमण के खिलाफ बन चुकी हर्ड इम्युनिटी से वायरस कमजोर हो रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर लोग कोविड प्रोटोकॉल का पालन जारी रखते हैं तो देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका काफी कम हो जाएगी। अगर किसी कारणों से अगली लहर आई भी तो यह दूसरी की तुलना में काफी कमजोर होगी।

तेजी से टीकाकरण से स्थिति बेहतर

तेजी से चल रहे टीकाकरण से हर नए दिन के साथ प्रदेश के साथ देश की बेहतर स्थिति में होता जा रहा है। जितना अधिक वैक्सीनेशन होगा स्थिति उतनी ही अच्छी होती जाएगी। एक्सपर्ट की माने तो मौजूदा स्थिति को देखते हुए देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका काफी कम है। हालांकि यह नहीं कह सकते कि अगली लहर अब कभी आएगी ही नहीं, लेकिन अब पहले की तुलना में खतरा काफी कम हो गया है।  अगर देश में कोरोना का कोई नया स्ट्रेन आता है और वह तेजी से फैलने के साथ साथ वैक्सीन से बनी इम्युनिटी को प्रभावित करता है तो अगली लहर का खतरा हो सकता है, हालांकि यह लहर ज्यादा घातक नहीं होगी।

कोविड प्रोटोकॉल का पालन जरूरी

एक्सपर्ट का कहना है कि कोविड एक ग्लोबल महामारी है। दुनिया के किसी भी देश में बढ़ रहे मामले अन्य देशों के लिए चिंता का कारण बन सकते हैं, इसलिए  भारत में कोविड के मामले भले ही कम हो रहे हो, लेकिन लोगों को लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। वैक्सीनेशन के साथ साथ कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना भी बहुत जरूरी है। टीकाकरण और कोरोना से बचाव (Corona Positivity Rate) के नियमों का पालन करने से ही इस वायरस को काबू में रखा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update