PM Security : CM भूपेश ने उठाए सवाल- सुरक्षा एक बहाना है… कुर्सियां खाली थीं तो क्यों जा रहे थे?

PM Security : CM भूपेश ने उठाए सवाल- सुरक्षा एक बहाना है… कुर्सियां खाली थीं तो क्यों जा रहे थे?

PM Security: CM Bhupesh raised questions- Security is an excuse… If the chairs were empty, why were you going?

PM Security

रायपुर/नवप्रदेश। PM Security : प्रधानमंत्री की सुरक्षा मामलें में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ा बयान दिया है। सीएम बघेल ने मीडिया से रूबरू होते हुए बोले कि पीएम की सुरक्षा तो एक बहाना है, वह पंजाब में केवल राजनीति चमकाने गए थे। उन्होंने कहा कि बंठिडा वापस आकर बयान देते हैं कि मैं सुरक्षित लौट आया इसलिए धन्यवाद। क्या आपकी गाड़ी पर पथराव हुआ, क्या आपको काले झंडे दिखाए गए? ऐसी क्या घटना घट गई कि आपको ये बयान देने की जरूरत पड़ी, इसका मतलब है कि आप विशुद्ध रूप से राजनीति कर रहे हैं।

राजीव भवन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सीएम भूपेश बघेल के साथ मंत्री रविंद्र चौबे और मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम भी मौजूद रहे।

भीड़ की जगह लगी थी खाली कुर्सियां

बघेल ने कहा कि क्या भारत सरकार के अधिकारियों को मौसम के बारे में पहले से पता नहीं था? अगर सड़क मार्ग से लेकर जाना था तो पहले बताना था, पंजाब सरकार व्यवस्था करती। क्या प्रधानमंत्री सिर्फ खाली कुर्सियों को भाषण देने जा रहे थे? क्योंकि कार्यक्रम स्थल पर लोगों की भीड़ नहीं थी सिर्फ वहां खाली कुर्सियां थी।

देश ने दो प्रधानमंत्रियों को खोया…PM की सुरक्षा सर्वोपरि

हालांकि पूरे प्रेस मीट में सीएम भूपेश ने ये भी कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा देश की सर्वोच्च प्राथमिकता (PM Security) है क्योकिं देश ने दो-दो प्रधानमंत्री को खोया है। उन्होंने आगे मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब सरकार को तीन जगह सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई थी।

बीजेपी की लिखी स्क्रिप्ट

सीएम ने कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार को बदनाम करने के लिए ये षड्यंत्र रचा गया, चुनी हुई सरकार को बदनाम करके कैसे अपदस्थ किया जा सके इसके लिए सारी योजनाएं बनाई गईं। कुर्सियां खाली थीं तो वहां जा क्यों रहे थे? बघेल ने इसे भाजपा के द्वारा तैयार की हुई स्क्रिप्ट बताया है, जिसका मकसद चुनी हुई सरकार को बदनाम करना है। मुख्यमंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी को इतना नीचे नहीं गिरना चाहिए था, इतना नीचे आकर बयान नहीं देना चाहिए था कि जान बच गई। राजनीतिक लाभ के लिए इस तरह से बयान दिया, ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।

पीएम कई बार फंसे जाम में तब हो जाते है आम आदमी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा सुरक्षा में चूक सिर्फ एक बहाना है, प्रधानमंत्री वहां सिर्फ राजनीति चमकाने गए थे। पहले भी प्रधानमंत्री कई बार जाम में फंस चुके हैं, तब भाजपा के लोग कहते थे कि प्रधानमंत्री आम आदमी हैं। प्रधानमंत्री से पंजाब में एक दलित मुख्यमंत्री बर्दाश्त नहीं हो रहा है। प्रधानमंत्री इस घटना पर विशुद्ध रूप से राजनीति कर रहे हैं। इस तरह भाजपा यूपी और पंजाब चुनाव में लोगों की सहानभूति हासिल करना चाहती हैं। बघेल ने कहा कि राजनीति में प्रधानमंत्री इस स्तर तक पहुंच जाएंगे, यह उम्मीद नहीं थी।

केंद्रीय एजेंसियों पर कार्यवाई कब?

सीएम बघेल (PM Security) ने आगे कहा कि सबसे पहले तो केंद्र सरकार यह बताए कि वो केंद्रीय एजेंसियों के खिलाफ क्या कार्यवाई कर रहे है? जहां 20 आईपीएस और 10 हजार जवान लगाए गए थे। इसके बाद पीएम ने एकाएक रोड से जाने का फैसला क्यों किया? आखिर एकाएक यह निर्णय क्यों लिया गया? पीएम की सुरक्षा को ताक पर रखने का फैसला क्यों किया गया? एसपीजी आईबी और मौसम विभाग के खिलाफ अब तक क्या कार्यवाई हुई?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update