BREAKING: कांग्रेस के आजाद के लिए पीएम मोदी की आंखों से छलके आंसू, पढ़ें पीएम की बात उन्हीं की जुबानी…

pm modi speech for ghulam nabi azad, pm modi become nostalgic in rajya sabha, pm modi in budget session 2021, navpradesh,

pm modi speech for ghulam nabi azad

PM Modi Speech For Ghulam Nabi Azad : आज खत्म हो रहा है आजाद का राज्यसभा का कार्यकाल

नई दिल्ली/नवप्रदेश। प्रधानमंत्री (PM Modi Speech For Ghulam Nabi Azad) नरेंद्र मोदी मंगलवार को अपने उद्बोधन के दौरान काफी भावुक हो गए। उनकी आंखों से आंसू भी छलक पड़े। दरअसल मंगलवार को जम्मू कश्मीर के तीन राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल खत्म् हो गए।

इनमें एक कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद भी शामिल हैं। इन सांसदों की विदाई पर पीएम मोदी ने जब भाषण दिया तो वे अपनी भावनाओं को नहीं रोक पाए। गुलाम नबी आजाद को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि उनसे उनकी खास निकटता रही है। इस संबंध मेंं उन्होंने एक वाकये का भी जिक्र किया।

PM Modi Speech For Ghulam Nabi Azad : प्रधानमंत्री की भावुक बातें उन्हीं की जुबानी…

प्रधानमंत्री (PM Modi Speech For Ghulam Nabi Azad) ने कहा कि जब आजाद जी जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री थे तब वे भी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। तब जम्मू कश्मीर में गुजरात के पर्यटकों पर आतंकियों ने हमला कर दिया था। इस हमले में आठ लोग मारे गए थे। तब आजादी जी ने मुझे फोन किया। घटना की जानकारी देते हुए उनकी आंखों के आंसू नहीं रुक रहे थे। मैंने उनसे आग्रह किया था कि शवों को हवाई जहाज के माध्यम से गुजरात भिजवा दें।

इस पर आजादजी ने मुझसे कहा था- आप चिंता मत करिए, मैं व्यवस्था करवाता हूं। उस रात को आजाद एयरपोर्ट पर ही रहे और मुझसे बात करते रहे। उन्होंने गुजरात के नागरिकों की अपने परिवार की तरह चिंता की थी। सत्ता जीवन में आती जाती रहती है, लेकिन सत्ता को पचाना कोई आजाद जी से सीखें।

करीब 3-4 बार पिया पानी :


गुलाम नबी आजाद के बारे में उक्त बातें कहते हुए प्रधानमंत्री अपनी भावनाओं को नहीं रोक पाए और उनकी आंखों से आंसू निकल आए। वे इतने भावुक हो गए कि पूरी बात को अपने अन्य भाषणों की तरह धारा प्रवाह में नहीं बोल पाए। उनका गला रुंध गया। प्रधानमंत्री ने अपनी बात को पूरी करने के दौरान करीब तीन से चार बार पानी पिया।

आजाद ने भी कुछ ऐसे माना आभार :


प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद भी प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त करने के लिए हाथ जोड़े हुए नजर आए। इस तरह मंगलवार को ससंद के उच्च सदन में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर अपनी बात रखने का ये नायाब उदाहरण देखने को मिला।

Loading...

BUY & SELL

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *