लॉकडॉउन का करोड़पतियों पर नहीं पड़ा कोई असर शहर में हुईं करोड़ों की डील, नेता, कारोबारी ने 600..

Nationwide, corona, business was broken, cache out, lockdown, capital Raipur, Land, deal worth crores,

capital Raipur Land deal worth crores

-नेता, कारोबारी ने किया पार्टनरशिप में जमीन का सौदा
– खरीदारों में कई ऐसे जिनके यहां पड़ा था आयकर छापा
– कोरोना काल में करीब 600 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी बिकी

रायपुर/नवप्रदेश । देशभर (Nationwide) में जब कोरोना (corona) के कारण धंधा चौपट (business was broken) था, बाजार में लिक्विड (कैश) खत्म (cache out) हो चुका था।

जमा-जुमाया कारोबार लॉकडाउन (lockdown) की भेंट चढ़ गया तब छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर(capital Raipur) में करोड़ों की जमीन का सौदा (Land deal worth crores) हो गया। सौदा करने वालों में वे लोग थे जिनके यहां इंकम टैक्स का सर्वे और छापा हुआ और कुछ भी नहीं निकला।

उन्हीं लोगों ने चंद महीनों बाद ही राजधानी की सबसे महंगी-मंहगी जमीन और बिल्ंिडग खरीदते-बेचते रहे। इसमें डॉक्टर परिवार, कारोबारी, पॉलिटीशियन और उनके करीबी पार्टनर शामिल हैं।

कटोराताला, सिविल लाइन, फुंडहर, छेरीखेड़ी, वीआईपी रोड, अमलीडीह और धरमपुरा की महंगी जमीनों का मुंहमांगे दाम पर सौदा हुआ। मजे की बात यह कि लॉकडाउन के नुक्सान और कोरोना संक्रमण काल में हुई इस डील का आंकड़ा तकरीबन 600 करोड़ का बताया जाता है।

जमीन कारोबारियों के बीच इस कच्चे के सौदे की पक्की खबर अब आयकर विभाग तक पहुंच गई है। आईटी इन्वेस्टिगेशन विंग भी करोड़ों के हुए सौदे और सबसे ज्यादा उन लोगों व्दारा खरीदने से भौचक्क है जिनके यहां जांच कार्रवाई व दबिश के दौरान कोई बड़ी कर चोरी नहीं मिली। एक बार फिर बाजार में उड़ रहे इस सौदे की खबर के बाद आईटी विभाग की पैनी नजरें लगी हुई हैं।

कच्चे-पक्के में सौदे का राज

खरीदार और बिकवाल के बिचौलियों की मानें तो राजधानी के प्राइम लोकेशन की जमीनों, भवनों और व्यवसायीक प्रतिष्ठानों का सौदा तो तकरीबन 600 करोड़ का हुआ है। लेकिन मुंहमांगे दाम पर खरीदी गई प्रॉपर्टी की पेमेंट कच्चे और पक्के में की गई है। ताकि आईटी की जांच में फिर एक बार महमके की जांच टीम को कार्रवाई की स्थिति में जवाब दिया जा सके।

इन इलाकों की जमीनें बिकीं

  • फुंडहर,
  • छेरिखेड़ी,
  • धरमपुरा,
  • सिविल लाइन,
  • अमलीडीह,
  • वीआईपी रोड,

सच्चा सौदा कच्चा सौदा ऐसा

  • महल 100 से 125 करोड़,
  • डॉक्टर भाई की जमीन (11 हजार फुट) 10-12 करोड़,
  • धरमपुरा में बड़े मीडिया घराने के प्रोजेक्ट की जमीन 215 करोड़,
  • वीआईपी रोड में बीजेपी की पूर्व नेत्री की जमीन 50 करोड़ रु.,
  • बड़े होटलों के सौदे भी बाजार में फेंके गए हैं।

600 से बढ़कर हो जाएगा 1000 का सौदा

कोरोना के बाद से राजधानी में लाकडाउन के दौरान जमीन के बड़े सौदे हुए हैं। राजधानी के एक बड़े ब्रोकर ने बताया कि सबसे अधिक डिमांड फार्म हाउस की जमीन की रही। दस हजार वर्गफीट से लेकर दस एकड़ व बीस एकड़ तक की जमीन लोगों ने खरीदी।

लगभग पिछले 6 महीने में 1 हजार करोड़ के जमीन के सौदे हुए हैं। सबसे अधिक डिमांड वीआईपी रोड व उससे लगी हुई एप्रोच रोड की जमीन की है। लगातार जमीन बिक रही है।

Nav Pradesh | Supriya Shrinate | पत्रकार से नेता बनी इस महिला ने खोली योगी सरकार की पोल

navpradesh tv
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *