नान घोटाला : चिंतामणी के ठिकानों पर ईओडब्ल्यू के छापे

nan scam, raid on chintamani's premises, black money to be unearthed

black money

 -नान के तत्कालीन प्रबंधक है चिंतामणी चंद्राकर

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित नान घोटाला nan ghotala मामले में आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) eow ने बड़ी कार्रवाई की है। ईओडब्ल्यू eow ने सोमवार को नान के तत्कालीन प्रबंधक चिंतामणी चंद्राकर chintamani chandrakar के विभिन्न शहरों में स्थित ठिकानों पर दबिश दी है। ईओडब्ल्यू की टीम ने चिंतामणी के दुर्ग, कांकेर व बंगलुरु स्थित ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है। चिंतामणी के बेटे के घर पर भी सर्च की कार्रवाई चल रही है।

सूत्रों के मुताबिक , इन ठिकानों पर मिले कागज व दस्तावेजों की जांच में चिंतामणी chintamani के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग और बड़े पैमाने पर नकद लेनदेन के सबूत मिले हैं। इस कार्रवाई से चिंतामणी की काली कमाई के बारे में बड़ा खुलासा हो सकता है।

इसलिए हो रही कार्रवाई :

नान nan से जुड़ी डायरी में चिंतामणी का नाम सामने आया था। उन्हें लंबे समय से ईओडब्ल्यू eow में बयान देने के लिए तलब किया जा रहा था। आठ बार नोटिस जारी किया गया, लेकिन वे हाजिर नहीं हुए। ईओडब्ल्यू ने नान घोटाला nan ghotala मामले में जब 2015 में छापामार कार्रवाई की थी तो चिंतामणी रायपुर में तैनात थे। राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद उनका तबादला कांकेर किया गया, जहां वे बतौर जिला प्रबंधक नान पदस्थ हैं। अब ईओडब्ल्यू eow की टीम को उम्मीद है कि चिंतामणी के ठिकानों से उसे इस घोटाले से जुड़ीं अहम जानकारियां मिल सकती हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *