Model Act : मॉडल करती थी अपनी मां के साथ ये काम, कॉलेज स्टूडेंट्स को करती थी टारगेट

Model Act : मॉडल करती थी अपनी मां के साथ ये काम, कॉलेज स्टूडेंट्स को करती थी टारगेट

Model Act,

?????????????????????????????????????????????????????????

रांची, नवप्रदेश। झारखंड के रांची में पुलिस ने एक तस्कर गिरोह को पकड़ा है। पुलिस के अनुसार गिरोह में शामिल ज्योति शर्मा नाम की लड़की जो पेशे से एक मॉडल है। वह अपनी मां और अन्य महिलाओं के साथ मिलकर रांची और उसके आस-पास वाले इलाके में ब्राउन शुगर और ड्रग्स का कारोबार चलाती थी।

पुलिस ने मॉडल सहित उसकी मां और रैकेट से जुड़े 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। ज्योति इसके पहले बीते साल नवंबर में भी ब्राउन शुगर के साथ गिरफ्तार हुई थी। जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद उसने यह कारोबार दोबारा फैला लिया।

पुलिस ने मॉडल और उसकी मां के अलावा जिन लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें अर्जुन शर्मा, बलराम शर्मा और राहुल शर्मा शामिल हैं। इन सभी को रांची के सुखदेव नगर और पंडरा इलाके में पकड़ा गया है। इनके पास से 36 ग्राम ब्राउन शुगर और दो लाख 90 हजार रुपये कैश और कुछ मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं।

पुलिस की पूछताछ में ज्योति ने बताया है कि ब्राउन शुगर की सप्लाई का नेटवर्क चलाने के लिए उसका गिरोह इस बार ऑनलाइन तरीकों का इस्तेमाल कर रहा था। नेटवर्क में कई और लोग शामिल हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस अलग-अलग ठिकानों पर छापामारी कर रही है।

पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि रांची में बिहार के सासाराम और उड़ीसा के कुछ शहरों से ब्राउन शुगर पहुंचता है। ज्योति और उसके गिरोह के लोग कॉलेज के स्टूडेंट्स को आकर्षित कर उन्हें ब्राउन शुगर की लत लगाते हैं और इसके बाद ऊंची कीमत पर उन्हें सप्लाई करते हैं।

ज्योति के मोबाइल में ऐसे कई कांटैक्ट मिले हैं, जिन्हें वह ड्रग्स की सप्लाई करती थी। ज्योति रांची की विद्यानगर कॉलोनी स्थित स्वर्णरेखा की रहने वाली है।

रांची और दिल्ली सहित कई शहरों में मॉडलिंग के दौरान ही ज्योति का संपर्क ब्राउन शुगर सप्लायरों से हुआ। फिर इस धंधे में तुरंत मिलने वाले ज्यादा मुनाफे के लालच में उसने अपना गिरोह तैयार कर लिया।

उसकी मां भी इस धंधे में उसके साथ आ गई। पिछले नवंबर में जेल जाने के बाद वहां भी ऐसे कई लोगों से उसकी दोस्ती हुई, जो इस धंधे में उसके सहभागी बन गए। जेल से निकलने के कुछ दिनों बाद ही उसने फिर से कारोबार फैला लिया।

बीते नवंबर में ज्योति की गिरफ्तारी से मिले सुराग के आधार पर पुलिस ने झारखंड में कई जगहों पर छापामारी की थी। तब रांची में गांधी नामक एक युवक और पलामू में रिजवाना नामक एक महिला पुलिस की गिरफ्त में आई थी। उसने पुलिस को बताया था कि इस धंधे में रांची, धनबाद, बोकारो और पलामू की कई महिलाएं शामिल हैं।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed