माहेश्वरी समाज ने धूम धाम से मनाई महेश नवमी

बचेली। बचेली, दंतेवाड़ा जिला माहेश्वरी समाज ने नगर में बड़े ही धूम धाम से श्री महेश नवमी का पर्व मनाया। प्रतिवर्ष ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को माहेश्वरी समाज का प्रमुख त्योहार मनाया जाता है। इससे पूर्व दंतेवाड़ा में इस पर्व को मनाया जाता था पहली बार इसे बचेली नगर में मनाया जा रहा है। सुबह प्रभात फेरी नगर भ्रमण हेतु निकाली गई जो कि गायत्री मंदिर से होकर घड़ी चौक से मुख्य मार्ग से गुजरते हुए बंगाली कैंप सामुदायिक भवन में समाप्त हुई उसके पश्चात सम्प्लेक्स नाला के पास स्थित शिव मंदिर में समाज के सभी सदस्यों महिलाओ एवं बच्चों ने भगवान शिव का अभिषेक कर भगवान महेश की पूजा अर्चना की। इस पावन अवसर पर माहेश्वरी समाज के सदस्यों द्वारा अपोलो अस्पताल में मरीजों को फल, बिस्किट आदि सामग्री वितरण किया गया साथ ही माहेश्वरी समाज के सभी युवाओं ने रक्तदान कर मानवता का परिचय भी दिया।

बंगाली केम्प सामुदायिक भवन में समाज के विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए इसी बीच माहेश्वरी समाज की ओर से समाज के वरिष्ठ जनो एवं मेघावी छात्र छात्राओं को सम्मानित किया गया। साथ ही बचेली के 3 लोगो को माहेश्वरी समाज की ओर से प्रस्सति पत्र देकर सम्मानित किया गया। जिसमें 1 के एस पलनी,सुमित सरकार, हरिशंकर वाजपेयी( मिश्रा जी ) ,इन सभी को इनके सामाजिक उत्कृष्ट कार्यो हेतु सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के समापन के पश्चात नगर के मुख्य हनुमान मंदिर चौक में समाज की ओर से शरबत वितरण भी किया गया जो इस भीषण गर्मी में लोगो को राहत पहुंचा रहा था। आपको बता दे कि ग्रंथो के अनुसार माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति भगवान शिव के वरदान स्वरूप मानी गयी है। जिसका उत्पत्ति दिवस ज्येष्ठ शुक्ल नवमी है। जो की महेश नवमी के रूप में मनाई जाती है। भगवान शिव की आज्ञा से ही माहेश्वरी समाज के पूर्वजों ने क्षत्रिय कर्म छोड़कर वैश्य/व्यापारिक कार्य को अपनाया, तब से ही माहेश्वरी समाज व्यापारिक समुदाय के रूप में पहचाना जाता है। पूरे देश में महेश नवमी का त्योहार हर्षोल्लास से मनाया जाता है तथा शिव-पार्वती से खुशहाल जीवन का आशीर्वाद मांगा जाता है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *