LokSabha Elections 2024: कांग्रेस में बड़े बदलाव की संभावना, कौन है अध्यक्ष ? पार्टी की रणनीति तय…

LokSabha Elections 2024, There is a possibility of big changes in the Congress, who is the president? Party strategy,

LokSabha Elections 2024

LokSabha Elections 2024: सोनिया गांधी के 2024 के लोकसभा चुनाव तक कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बने रहने की संभावना है

नर्ई दिल्ली। LokSabha Elections 2024: सोनिया गांधी के 2024 के लोकसभा चुनाव तक कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बने रहने की संभावना है। इसके अलावा पार्टी अब कांग्रेस के युवा नेताओं को बड़ा मौका देने के मूड में है।

राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने की संभावना नहीं है। आगामी चुनाव को देखते हुए पार्टी में बड़े फेरबदल की योजना है। यह गांधी परिवार के प्रति वफादार युवा कांग्रेसी नेताओं को एक बड़ी जिम्मेदारी देने की संभावना है।

कांग्रेस के सूत्रों के हवाले से पार्टी जल्द ही चार कार्यकारी अध्यक्षों की नियुक्ति की उम्मीद करती है। इससे कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को पार्टी के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लेने में मदद मिलेगी।

कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष पद के लिए गुलाम नबी आजाद, सचिन पायलट, कुमारी शैलजा, मुकुल वासनिक और रमेश चेन्नीथला आगे चल रहे हैं। इस बीच, प्रियंका गांधी वाड्रा को दी जाने वाली नई भूमिका पर अभी तक कोई शब्द नहीं आया है। प्रियंका गांधी वाड्रा वर्तमान में उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव हैं।

सोनिया पिछले दो साल से अंतरिम अध्यक्ष हैं

सोनिया गांधी को कांग्रेस पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाले दो साल हो चुके हैं। कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव को पार्टी टाल रही है। यह भी कहा गया कि राहुल गांधी अब पार्टी अध्यक्ष पद ग्रहण करने के लिए तैयार हैं।

लेकिन मई 2021 में कांग्रेस ने कोरोना की स्थिति का हवाला देते हुए एक बार फिर पार्टी के राष्ट्रपति चुनाव को टाल दिया है। सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी का इरादा पार्टी में पूरी तरह से नया बदलाव करने का है।

2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद राहुल गांधी ने पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद कांग्रेस पार्टी पूर्णकालिक पार्टी अध्यक्ष के चुनाव की मांग कर रही है। राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़, केरल और कर्नाटक में कांग्रेस पार्टी कई आंतरिक मुद्दों का सामना कर रही है।

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवज्योत सिंह सिद्धू के बीच हुई झड़प और राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच हुई झड़प ने कांग्रेस की छवि खराब की है।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

BUY & SELL

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *