Katha Vachak : धीरेंद्र शास्त्री को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने कहा- कौन है यह, मैं नहीं जानता... -

Katha Vachak : धीरेंद्र शास्त्री को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने कहा- कौन है यह, मैं नहीं जानता…

Katha Vachak: Regarding Dhirendra Shastri, the leader of the opposition said- I do not know who is this...

Katha Vachak

ग्वालियर/नवप्रदेश। Katha Vachak : बागेश्वर धाम के कथावाचक धीरेंद्र शास्त्री की उनके खिलाफ बोलने वालों से चल रही जुबानी जंग में अब मध्यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह की भी एंट्री हो गई है। उन्होंने तंज कसते हुए पूछा, कौन धीरेंद्र शास्त्री? मैं तो सिर्फ गरीबों के हित में काम करने वालों को प्रणाम करता हूं। उन्होंने इशारों-इशारों में धीरेंद्र शास्त्री को फर्जी होने की संज्ञा भी दे डाली।

ग्वालियर पहुंचे नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह से मीडिया ने इस समय मीडिया में चर्चा का विषय बने बाघीश्वर धाम से जुड़े कथावाचक धीरेंद्र शास्त्री को दी जा रही चुनौतियों और शास्त्री की ओर से दिए जा रहे आक्रामक जबावों पर मीडिया ने प्रतिक्रिया पूछी तो उन्होंने कहा कि कौन है यह धीरेंद्र शास्त्री? मैं जानता नही हूं। कौन सा धीरेंद्र शास्त्री है। मैंने भी सोशल मीडिया में ही देखा।

इशारों-इशारों में कही ये बात

नेता प्रतिपक्ष (Katha Vachak) ने इशारों ही इशारों ने शास्त्री को फर्जी भी करार दे दिया। उन्होंने कहा कि वे सिर्फ गरीबों, आम व्यक्ति और जरूरतमन्दों की मदद करने वाले शास्त्री को ही प्रणाम करते हैं। फर्जी शास्त्रियों के लिए उनके यहां कोई जगह नहीं हैं। डॉ. सिंह ने कहा कि मैंने मीडिया पर ही देखा है कि छत्तीसगढ़ में ही चुनौती दी गई है कि अगर उन्हें कोई जादू टोना आता है तो करके दिखाएं।

इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष अध्यक्ष गोविंद सिंह ने शिवराज सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बीजेपी ने आपातकाल घोषित कर दिया है, न तो कोई बोल पा रहा है और न ही कोई स्वतंत्र घूम रहा है। अगर उनके खिलाफ कोई आवाज उठाता है तो उन्हें जेल में डाल दिया जाता है और जेल में उन्हें क्रूर कैदी की तरह रखा जा रहा है। प्रदेश में हर तरफ अराजकता का माहौल है और इस समय पूरे प्रदेश में लूट मची हुई है।

राष्ट्रीय स्वयं संघ को लेकर बयान

इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष ने राष्ट्रीय स्वयं संघ को लेकर भी बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि हिंदू महासभा और राष्ट्रीय स्वयं संघ के लोग कभी जीवन में नहीं गए और अगर गए हैं तो वह माफी मांग कर आ गए। बीजेपी पूरी तरह से पुरानी राजा महाराजाओं की संस्कृति लाना चाहती है। अधिकांश शहरों के नाम राजा महाराजाओं के नाम पर रख दिए हैं तो वहीं बस स्टैंड एयरपोर्ट के नाम भी उन्हीं महाराजा राजाओं के नाम पर रखे जा रहे हैं।

कांग्रेस के पूर्व मंत्री राजा पटेरिया को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने सरकार पर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि जेल में उन्हें कोई भी सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। बीमार होने पर इनका इलाज नहीं किया जा रहा है। साथ ही उन्हें सर्दी में ओढ़ने के लिए कपड़े तक नहीं दिए जा रहे। इस समय दो डिग्री तापमान चल रहा है, लेकिन उन्हें कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा रही। यही कारण है कि उनके परिवार वाले लगातार धरना दे रहे हैं, लेकिन सरकार पूरी तरह गूंगी और बहरी है।


JOIN OUR WHATS APP GROUP

डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update