Health Mission : शुरू होते ही बना कारवां...देश का पहला राज्य, देखें कैसे बनी यह योजना 'संजीवनी' -

Health Mission : शुरू होते ही बना कारवां…देश का पहला राज्य, देखें कैसे बनी यह योजना ‘संजीवनी’

Health Mission: The caravan was formed as soon as it started... the first state of the country, see how this scheme 'Sanjeevani' was made

Health Mission

रायपुर/नवप्रदेश। Health Mission : 1 जनवरी 2020 से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना की शुरूआत की गई। छत्तीसगढ़ के नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने और दुर्लभ बीमारियों के इलाज में होने वाले खर्च को बचाने के लिए CM बघेल ने यह पहल शुरू की है।

इस योजना के अंतर्गत चिन्हित दुर्लभ बीमारियों के लिए राज्य के पात्र परिवारों को अधिकतम 20 लाख रूपए तक के उपचार की सुविधा प्रदान की जा रही है। छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जो अपने नागरिकों को उपचार के लिए इतनी बड़ी राशि उपलब्ध करा रहा है। इस योजना के पीछे मुख्यमंत्री बघेल की स्वस्थ एवं बेहतर छत्तीसगढ़ के निर्माण की भावना छिपी हुयी है।

मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना (Health Mission) का लाभ छत्तीसगढ़ के प्राथमिकता एवं अंत्योदय राशन कार्डधारी परिवार ले सकते हैं। वैसे तो इस योजना का लाभ लेने के लिए शासन की तरफ से नियम तय किए गए हैं, लेकिन यदि कोई पीड़ित इस श्रेणी में नहीं आता है तो मुख्यमंत्री को ऐसे मरीज के लिए विशेष परिस्थितियों में नियमों को शिथिल करने का अधिकार है। ऐसे प्रकरण मुख्यमंत्री सचिवालय के माध्यम से भेजे जाते हैं और प्रकरण पर स्वीकृति मिलने के बाद मरीज को आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जा रही है।

लीवर एवं बोनमेरो ट्रांसप्लांट के लिए दी जा रही है 12 से 20 लाख रूपए तक की राशि

मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के अंतर्गत 1 जनवरी 2020 से लेकर 27 जून 2022 तक 2429 प्रकरणों में लगभग 43 करोड़ 30 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। इनमें बोनमेरो ट्रांसप्लांट के 63 प्रकरणो में प्रति हितग्राही 12 से 20 लाख रूपए तक की स्वीकृति दी गयी है। लीवर ट्रांसप्लांट के 13 प्रकरणों में योजना के तहत प्रति हितग्राही को 18 से 20 लाख रूपए तक की स्वीकृति दी जा चुकी है जबकि किडनी ट्रांसप्लांट के 56 प्रकरण स्वीकृत किए गए हैं जिसमें प्रति प्रकरण 04 से 06 लाख रूपए की स्वीकृति दी गयी है।  इस योजना से लाभांवित हितग्राहियों का कहना है कि मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना उनके लिए संजीवनी का काम कर रही है।

मुख्यमंत्री को ट्विट करने के कुछ घंटे के भीतर मिली इलाज के लिए राशि

बलौदाबाजार भाटापारा के रहने वाले रतन लाल यादव ने अपने ट्विटर हैंडल से अपने चार माह के बच्चे के दिल की बीमारी के बारे में बताते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को ट्विट किया। इस पर तत्काल सुनवाई करते हुए कुछ घंटे के भीतर ही रतन लाल यादव को उनके चार माह के बच्चे के दिल की बीमार के लिए राशि स्वीकृत की गई। रतन लाल के चार माह के बच्चे के दिल के इलाज के लिए योजना के अंतर्गत 04 लाख रूपए की राशि स्वीकृत की गयी है। इस राशि से रतन लाल ने हैदराबाद में अपने बच्चे की सफल सर्जरी करायी है और डाक्टरों की निगरानी में उसका इलाज जारी है।

तीन माह के अमनदीप साहू का हुआ सफल आपरेशन

जांजगीर चांपा के रहने वाले (Health Mission) खेमलाल साहू के तीन माह के बच्चे अमनदीप साहू को दिल की बीमारी थी, उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के लिए आवेदन दिया। बच्चे की बीमारी की गंभीरता को देखते हुए तुरंत ही 03 लाख 07 हजार रूपए की स्वीकृति प्रदान की गयी। तीन माह के अमनदीप का सफल आपरेशन हुआ और डाक्टरों की  निगरानी में उसका इलाज जारी है।

बीमारियों के लिए सहायता

1. लिवर प्रत्यारोपण

2. किडनी प्रत्यारोपण

3. फेफडों का प्रत्यारोपण

4. हृदय व फेफडों प्रत्यारोपण

5. हृदय रोग

6. हीमोफीलिया (only with acute complications requires intensive care) एवं फैक्टर-8 एवं 9 (सर्जरी/ट्राॅमा/acute bleeding की स्थिति में) (जिनका इलाज राज्य की अन्य योजनाओं में उपलब्ध ना हो या राशि समाप्त हो चुकी हो)

7. कैंसर (जिनका इलाज राज्य की अन्य योजनाओ मे उपलब्ध ना हो या राशि समाप्त हो चुकी हो )

8. एप्लास्टिक अनीमिया (जिनका इलाज राज्य की अन्य योजनाओ मे उपलब्ध ना हो या राशि समाप्त हो चुकी हो )

9. काॅक्लीयर इम्प्लांट (7 साल तक के बच्चो के लिए) (मात्र शासकीय चिकित्सालय में उपचार हेतु)

10. एसिड अटैक विक्टिम्स (cosmetic procedures)(मात्र शासकीय चिकित्सालय में उपचार हेतु)

11. विभिन्न प्रकार के rare diseases (जिनका इलाज राज्य की अन्य योजनाओं में उपलब्ध ना हो) एवं उपचार हेतु प्राप्त आवेदन हेतु विशेष समिति द्वारा अनुशंसा अनिवार्य होगी।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

Leave a Reply

Your email address will not be published.

COVID-19 LIVE Update