Festive Season : त्यौहारी सीजन में सावधानी जरूरी - Navpradesh

Festive Season : त्यौहारी सीजन में सावधानी जरूरी

Festive Season: Caution is necessary in the festive season

festive season

Festive Season : भारत में कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार कम जरूर हुई है लेकिन अभी कोरोना की दुसरी लहर खत्म नहीं हुई है। पिछले एक सप्ताह से अभी भी प्रतिदिन २५ से ३० हजार नए मामले सामने आ रहे है और लगभग २०० लोगों की कोरोना के कारण मौत हो रही है। यद्यपि देश में कोरोना की वैक्सीन लगाने का काम युद्ध स्तर पर जारी है लेकिन अभी भी एक बड़ी आबादी तक कोरोना की वैक्सीन नहीं पहुंच पाई है। ऐसी स्थिति में कोरोना से बचाव के लिए सावधानी बरतना निहायत जरूरी है।

पितृपक्ष की समाप्ति के बाद नौ दिनों का नवरात्रि पर्व आने वाला है इसके बाद दशहरा, दीपावली, छठ पूजा और क्रिसमस जैसे त्यौहार आने वाले है। इस त्यौहारी सीजन (Festive Season) में बाजारों में बेतहाशा भीड़ उमड़ेगी, इसलिए सतर्कता बरतने की सख्त जरूरत है अन्यथा कोरोना का संक्रमण फैल सकता है और कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है।

इस बारे में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान नई दिल्ली के मुख्य चिकित्सक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि आगामी छह से आठ सप्ताह विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है क्योंकि इस दौरान कई महत्वपूर्ण त्यौहार आने वाले है जिसकी वजह से सार्वजनिक स्थानों और बाजारों में भीड़ बढ़ेगी जो कोरोना वायरस को फैला सकती है, इसलिए लगभग दो माह तक सभी लोगों को चाहिए कि वे कोरोना गाईड लाईन का पूरी ईमानदारी से पालन करें।

दरअसल हो यह रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर की गति मंद पडऩे के बाद अब लोगों ने सावधानी बरतना कम कर दिया है। न तो लोग मास्क को जरूरी समझ रहे है और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रख रहे है। विभिन्न धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक और राजनीतिक कार्यक्रमों में कोरोना गाईड लाईन की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है।

संबंधित राज्य सरकारों को चाहिए कि वह ऐसे सार्वजनिक कार्यक्रमों में कोरोना गाईड लाईन का कठोरतापूर्वक पालन कराएं और त्यौहारी सीजन में बाजारों में उमडऩे वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए भी एहतियाती कदम उठाएं अन्यथा कोरोना की दूसरी लहर फिर तेज हो सकती है और तीसरी लहर को अमंत्रित कर सकती है।

6 राज्य और केंद्र शासित राज्यों में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज 100 फीसद लोगों लग चुकी है.10 राज्यों में 80 फीसद से ज्यादा लोग वैक्सीन (Festive Season) की पहली डोज लगवा चुके हैं. 15राज्यों में 60 से 80 फीसद लोग वैक्सीन की पहली डोज ले चुके हैं. 7 राज्यों में 60त्न से कम लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग पाई है। उन्होंने कहा कि अर्बन इलाकों में 26.95 करोड़ टीके की डोज प्रशासित की जा चुकी है. वहीं, ग्रामीण इलाकों में 49.31 करोड़ वैक्सीन की डोज प्रशासित हुई हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

COVID-19 LIVE Update