Congress Chintan Shivir : पार्टी के लिए विमर्श कर आगे का रास्ता बनाने यह चिंतन शिविर एक अवसर : सोनिया - Navpradesh

Congress Chintan Shivir : पार्टी के लिए विमर्श कर आगे का रास्ता बनाने यह चिंतन शिविर एक अवसर : सोनिया

Congress Chintan Shivir

उदयपुर/नवप्रदेश, यशवंत धोटे। राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के तीन दिवसीय नवसंकल्प चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी ने कहा कि राजनीतिक दल की हैसियत से पार्टी के लिए विमर्श कर आगे का रास्ता बनाने का यह चिंतन शिविर एक अवसर है।

भाजपा की नीतियों के कारण देश का किसान पीडि़त है, युवा बेरोजगार हैं, लोगों के काम धंधे बंद हो गए हैं, दलित आदिवासियों अल्पसंख्यकों पर योजनाबद्ध तरीके से हमले हो रहे हैं। देश की जनता के सामने आज जो असाधारण चुनौतियां हैं उनका पार्टी को असाधारण तरीके से मुकाबला करना है।

सोनिया गांधी ने पार्टी नेताओं से भावुक अपील करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने अपने सभी कार्यकर्ताओं को बहुत कुछ दिया है, इसलिए अब पार्टी का कर्ज उतारने का समय आ गया है और सभी को मिलकर काम करना है। उन्होंने कहा कि संगठन कैसे मजबूत हो, इसके लिए इस चिंतन शिविर में खुलकर अपनी बात इस तरह से रखनी है ताकि यहां से संगठन की मजबूती, दृढ़ निश्चय और एकता का एक मजबूत संदेश जाए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को मजबूत बनाने में पार्टी कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा,च्च् मैं जानती हूं कि हमारे कई साथी यहां आना चाहते थे और इस चिंतन शिविर में शामिल होना चाहते थे लेकिन कई कारणों से हमें संख्या को सीमित रखना पड़ा। मुझे पूरा भरोसा है की वे इस बात को समझेंगे और इसका मतलब यह नहीं है कि संगठन को मजबूत बनाने में उनका योगदान किसी से कम है।

काम करने के तरीके में बदलाव की जरूरत : कांग्रेस नेता ने कहा कि देश के समक्ष आज जो चुनौतियां हैं और जो असाधारण परिस्थितियां हैं, उनका असाधारण तरीके से ही मुकाबला किया जा सकता है। इस चिंतन शिविर के माध्यम से कांग्रेस को सुधारों को लाना है और रोजाना काम करने के तरीके में बदलाव लाकर पार्टी को नयी बुलंदियों तक पहुंचाना है।

कांगे्रस जनता के लिए निरंतर संघर्ष करेगी : श्रीमती गांधी ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने देश को मनरेगा और खाद्य सुरक्षा जैसी जन उपयोगी योजनाएं दी हैं जिसका लाभ देश की जनता को बराबर मिल रहा है, लेकिन भाजपा सरकार इन सब जन उपयोगी योजनाओं को नजरअंदाज कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जनता के लिए संसद के अंदर और संसद के बाहर – हर मोर्चे पर निरंतर संघर्ष करेगी। उन्होंने कहा कि उदयपुर चिंतन शिविर के जरिए कांग्रेस जन भावनाओं से जुड़कर जनता को भाजपा शासन की प्रताडऩा से मुक्ति दिलायेगी।

कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण योगदान : उन्होंने कहा कि कांग्रेस को मजबूत बनाने में पार्टी कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा, मैं जानती हूँ कि हमारे कई साथी यहां आना चाहते थे और इस चिंतन शिविर में शामिल होना चाहते थे लेकिन कई कारणों से हमें संख्या को सीमित रखना पड़ा। मुझे पूरा भरोसा है की वे इस बात को समझेंगे और इसका मतलब यह नहीं है कि संगठन को मजबूत बनाने में उनका योगदान किसी से कम है।

सुधारों की सख्त जरूरत : श्रीमती गांधी ने कहा कि पार्टी को न केवल जीवित रखने के लिए बल्कि आगे बढऩे के लिए समय-समय पर अपने अंदर परिवर्तन लाने होते हैं और इस वक्त पार्टी को सुधारों की सख्त जरूरत है, इसलिए रणनीति में बदलाव लाने, ढांचागत सुधार करने और काम के तरीकों में परिवर्तन लाकर सामूहिक प्रयास से पार्टी के पुनरुत्थान के लिए काम करना है ताकि कांग्रेस नयी ऊर्जा, नयी प्रतिबद्धता और नये आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ सके।

राइट्स बेस्ड मॉडल पर कांग्रेस का भरोसा-भूपेश


कांग्रेस के चिंतन शिविर में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि देश के सर्वांगीण विकास के लिए कांग्रेस के अलावा कोई विकल्प नहीं है। कांग्रेस ने मूलभूत सुविधाओं को लोगों का अधिकार बनाया है। राइट्स बेस्ड मॉडल पर कांग्रेस का भरोसा है। खाद्य सुरक्षा कानून, आरटीआई कांग्रेस की देन है। राहुल गांधी के न्याय का मॉडल राजस्थान और छत्तीसगढ़ में लागू किया गया, इसे देश के सामने पेश करने की जरूरत है। पिछले आठ सालों में कितना और किसका विकास हुआ ये सबके सामने है। देश को विकास की नई परिभाषा देने का समय है।

JOIN OUR WHATS APP GROUP

BUY & SELL

Leave a Reply

Your email address will not be published.

COVID-19 LIVE Update