जैसे को तैसा, भारत के एक फैसले से दिवाली पर चीन को 40 हजार करोड़ का नुकसान, छग ने भी…

china in loss on diwali, cat assume 40 thousand crore loss to china on diwali, navpradesh,

china in loss on diwali

नई दिल्ली/रायपुर/नवप्रदेश। भारत के एक फैसले से दिवाली पर चीन (china in loss on diwali) को 40 हजार करोड़ रुपए का झटका लगा है। पूर्वी लद्दाख में चीन की हेकड़ी व कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई वोकल फॉर लोकल की अपील से चीन (china in loss on diwali को जबर्दस्त नुकसान हुआ है

दोनों चीजों का असर दीपावली की खरीदारी में दिखा। जिसके कारण चीन को व्यापार में बड़ा झटका लगा। दीपावली के दिन लोगों ने चीनी वस्तुओं का जबर्दस्त बहिष्कार किया। व्यापारियों के संघटन कैट के अनुसार दिवाली में चीन को करीब 40 हजार करोड़ का नुकसान सहन करना पड़ा।

इस बार दीपावली में लोग चीनी उत्पादों को नजरअंदाज करते नजर आए। कैट के नेतृत्व में देशभर के व्यापारियों ने वोकल फॉर लोकल व आत्मनिर्भर भारत की अपील पर गंभीरता से अमल किया। दिवाली के दिन खरीदी बिक्री करते समय लोगों ने चीनी वस्तुओं का विरोध किया।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया व राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण खंडेलवाल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार दिवाली के समय देश के 20 अलग-अलग शहरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार चीन (china in loss on diwali) को करीब 40 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

भारत में बनीं इन चीजों की अच्छी हुई बिक्री

कैट के मुताबिक भारत में निर्मित एफएमसीजी उत्पाद, ग्राहक वस्तु, विद्युत उपकरण, रसोईघर की चीजें, भेंट वस्तु, मिठाई, स्नैक्स, घर के सामान, बर्तन, सोना, गहने, जूते, घडिय़ां, फर्नीचर, कपड़े, मिट्टी के दीए, पूजा की वस्तुएं आदि की बिक्री अच्छी-खासी हुई है।

छत्तीसगढ़ ने भी सिखाया सबक

छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष जितेंद्र बरलोटा ने बताया कि वोकल फॉर लोकल का असर छत्तीसगढ़ में भी अच्छा देखने को मिला। यहां भी लोगों ने चीनी उत्पादों का बहिष्कार किया। वैसे भी चीन के रुख के चलते बने माहौल व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के मद्देनजर प्रदेश के व्यापारियों ने चीनी वस्तुओं का स्टाक ही नहीं रखा था।

Loading...

BUY & SELL

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *