Chhattisgarh में बाघ के शिकारी निकले ये पुलिसवाले, बरामद हुई…

chhattisgarh, tiger poaching, police constable, navpradesh,

बाघ के शिकार व खाल की तस्करी मामले में दो कांस्टेबल गिरफ्तार
पुलिस ने कुल नो आरोपियों को दबोचा अब हो रही पूछताछ

कांकेर/नरहरपुर। छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) में बाघ (tiger) का शिकार (poaching) व इसकी खाल की तस्करी में पुलिसवाले (police constable) ही लिप्त पाए गए हैं। मामला मुख्यालय से महज 30 किलोमीटर दूर स्थित नरहरपुर विकासखंड किशनुपरी ग्राम पंचायत का है।

पुलिस ने विलुप्तप्राय हो रहे बाघ (tiger poaching) की खाल समेत 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें दो कांस्टेबल (police constable) भी शामिल हैं। राज्य (chhattisgarh) के गिरफ्तार पुलिस आरक्षकों के नाम महेश लकड़ा पिता प्रेमसिंह लकड़ा (32) क्रमांक-573 व रतनसाय तिर्की पिता बंधू तिर्की (38) क्रमांक-594 हैं। दोनों कोण्डागांव में ही पोस्टेड हैं।

वन भूमि पर अतिक्रमण करने वाले 10 लोगों को 14 दिन की हिरासत

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आरोपियों ने पहले तो बाघ का शिकार (tiger poaching) किया और फिर वे इसे बेचने की फिराक में थे। पुलिस ने इनके पास से बाघ की खाल (tiger skin) बरामद की है। राज्य (chhattisgarh) के वन विभाग के मुताबिक शिकार किए गए बाघ की उम्र 2 या तीन साल रहने का अनुमान है। यह कार्रवाई गुप्त सूचना के आधार पर की गई, जिसकी जानकारी वन विभाग ने दी है।

मामला, जो वनविभाग ने बताया

  • विभाग की ओर से बताया गया कि 29 नवंबर को वन विभाग को सूचना मिली कि एक बाघ की खाल (tiger skin) का सौदा बीजापुर में किया जा रहा है।
  • जिसके बाद वन विभाग केे विशेष दस्ते-एंटी पोचिंग यूनिट और डॉग स्क्वायड, अचानकमार टाइगर रिजर्व ने मामले को गंभीरता से लेते हुए बीजापुर के एक व्यक्ति से फोन पर संपर्क सौदा करने का ड्रामा किया।
  • उस व्यक्ति ने कहा मैं पैसा की झड़ी लगाने वाले तांत्रिक को ढूंढ रहा हूं।
  • वन विभाग ने अपने ही एक कर्मचारी को तांत्रिक बनाकर उसके पास भेजा।
  • कांकेर के किशनपुरी में मौके पर बाघ की खाल लिए लोगों द्वारा पूजन सामग्री का व्यवस्था की गई थी।
  •  उसी समय वनविभाग की एंटी पोचिंग यूनिट एवं डॉग स्क्वायड अचानकमार टाइगर रिजर्व की टीम ने दबिश देकर तस्करी का भंडाफोड़ कर दिया।

ये चीजें की बरामद

आरोपियों के पास से बाघ की खाल के साथ ही 4 बाइक और 11 माोबाइल फोन जब्त किए गए हैं। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

इनकी हुई गिरफ्तारी

बलराम मुड़मा पिता सुखराम मुड़मा (22) निवासी चिंतनपल्ली, जिला बीजापुर; समीर मुड़मा पिता पाण्डू मुड़मा (23) निवासी चिंतनपल्ली, जिला बीजापुर; महेश लकड़ा पिता प्रेमसिंह लकड़ा (32) आरक्षक क्रमांक-57& निवासी गनपतपुर जिला रायगढ़ (पोस्टेड कोण्डागांव); तुकाराम लोन्हारे पिता बालसिंह लोन्हारे (47) निवासी किशनपुरी जिला कांकेर; कुंदल शोरी पिता बालसिंह शोरी (50) निवासी हटकाचारामा जिला-कांकेर; रतनसाय तिर्की पिता बंधू तिर्की (38) आरक्षक क्रमांक-594 निवासी कोण्डागांव जिला-बलरामपुर (कोण्डागांव में ही पोस्टेड); पंचू राम ध्रुव पिता कुलू राम (47) निवासी भीरागांव जिला-कोण्डागांव; मानसिंग पिता गडरू (22) निवासी भीरागांव जिला-कोण्डागांव।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *