nav Pradesh logo

पाक ने गुजरात सीमा पर बनाया हाईटेक एयरबेस, चीन से खरीदे लड़ाकू विमान किए तैनात

Date : 10-Jul-18

News image
News image
News image
<
  इस्लामाबाद । पाकिस्तान फिर गुजरात के कच्छ क्षेत्र से जुड़ी सीमा पर सक्रिय  नज़र आ रहा हैं। दरअसल पाकिस्तान ने सिंध प्रांत के हैदराबाद जिले के भोलारी में एक आधुनिक सैन्य हवाई क्षेत्र (हाईटेक एयरबेस) विकसित किया है जिसमें चीन से प्राप्त जेएफ-17 लड़ाकू विमानों को तैनात किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार यह हवाई क्षेत्र पहले से मौजूद था लेकिन हाल ही में इसे लड़ाकू विमानों के लिए किया जाने लगा है। अपनी पूर्वी सीमा पर भारतीय वायुसेना की ताकत का मुकाबला करने के लिए पाकिस्तानी वायुसेना बड़ी संख्या में चीन निर्मित जेएफ-17 विमान शामिल कर रही है। पाक के हैदराबाद बेस से कुछ दूर पाकिस्तानी मरीन के एसएसजी कमाण्डो ने अपना बेस तैयार किया है जहां से लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों को समुद्री रास्ते से हमले करने की ट्रेनिंग दी जाती है। पाकिस्तान की तरफ से इस विस्तार को देखते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारण ने गुजरात के दीसा में नए हवाई क्षेत्र के निर्माण को हरी झंडी दे दी है। इस हवाई क्षेत्र से पाकिस्तान की तरफ से होने वाले खतरे का मुकाबला किया जाpakistan developing airbase along the gujarat border सकेगा। लेकिन इसका निर्माण होने में तीन से चार साल लगेंगे। सुरक्षा मामले की कैबिनेट समिति ने इसी साल इस हवाई क्षेत्र को मंजूरी दी थी। पाकिस्तानी वायु सेना नें  पिछले साल ही 16 नए जेएफ-17 थंडर जेट विमान शामिल किए थें। इन लड़ाकू विमानों को पाकिस्तान ने चीन के साथ मिलकर बनाया है। पाकिस्तान में पहले से ही 70 से ज्यादा जेएफ-17 थंडर जेट हैं। जेएफ-17 लड़ाकू विमान भारत में बने लड़ाकू विमान तेजस की भांति ही लाइट कॉम्‍बेट जेट है।