nav Pradesh logo

72 घंटें की बारिश से घरो में घुसा पानी, जन जीवन अस्त-व्यस्त 

Date : 10-Jul-18

News image
News image
News image
<

बीजापुर (नवप्रदेश) ।  जिले के  इलाके में लगातार 72 घंटो की मुसलाधर बारिश के चलते जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है, इतना ही नही भारी बारिश के चलते अंदरूनी इलाक़े के छोटे बड़े नाले तक भरे जा चुके हैं जहां से पहुंचना सम्भव नही है व राहगीर जान जोखिम में डालकर नाले पार करने को मजबूर है।  बीजापुर से भोपालपटनम इलाके में सड़क निर्माण तो पूर्ण हो चुका है पर कहीं बीच  मख्य मार्ग के नाले के पूर्ण न होने के कारण वाहनों की आवाजाही इन इलाकों में थम चुकी है।

नाले उफान पर, जिला मुख्यालय से टूटा संपर्क

बीजापुर जिला मुख्यालय से 12 किमी दूर तोयनार , पापनपाल, मोरमेड,  बोरजे, धनोरा जैसे इलाको में भी नाले उफान पर है आने - जाने जिला मुख्यालय से सम्पर्क टूट जाता है। इतना ही नही इसका सबसे ज़्यादा प्रभाव स्वास्थ्य सेवाओं में देखने को मिलता है , जिससे कि इलाके के लोग टापू के कारण बीजापुर मुख्यालय नही पहुंच सकते, न ही कोई और बड़ी सुविधा इन अंदरूनी इलाको में है , बिजली , दूरसंचार सेवा व्यवस्था भी प्रभावित पड़ जाती है, वही दूसरी ओर गांगलूर बीजापुर से 22 किमी का घोर नक्सल प्रभावित व आदिवासी बहुमूल्य वन परि चेत्र है जहां पोंजेर, चेरपाल के नाले उफान पर आने से बीजापुर मुख्यालय से सीधा सम्पर्क टूट जाता है।  इधर भोपालपटनम मार्ग पर पुल , निर्माणाधीन होने के कारण लगातार 72 घंटे बारिश होने से नदी नाले उफान पर होने के आवागमन बाधित है।