nav Pradesh logo

2 नक्सलियों के शव परिजन ले गये, 1 का शव लेने अब तक नही आया कोई

Date : 07-Jul-18

News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
News image
<
  • मुठभेड़ में मारे गये नक्सलियों की हुई शिनाख्त
  • 5 लाख का ईनामी राकेश भी मारा गया
दन्तेवाड़ा। कटेकल्याण एरिया के पेद्दाडब्बा के जंगलो में शुक्रवार को डीआरजी की टीम और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में डीआरजी ने 03 नक्सलियों को मार गिराया था। साथ ही असलाह,बारूद और नक्सली साहित्य, वर्दी भी बरामद किया था, मारे गये तीनो नक्सलियों की शनिवार देर सुबह तक शिनाख्त हो गयी। मारे गये तीनो नक्सलियों ने एक राकेश है। जो कि नक्सलियों के 26 नम्बर प्लाटून मेंबर का सदस्य था, जिसके ऊपर 05 लाख रुपये का ईनाम भी  लगा हुआ था। साथ 2 अन्य नक्सलियों की शिनाख्त कटेकल्याण के डब्बा गांव के पटेलपारा के रह निवासी के रूप में हुई है। इनमें से एक नक्सली कोशा मुचाकी और दूसरा  नक्सली माड़वी कोशा है। जिनके परिजन  शनिवार को डब्बा गांव से दन्तेवाड़ा पहुँचकर दो शव को  अपने साथ अंतिम संस्कार के लिए ले गये। वही राकेश जैमर तोंगपाल के पास पड़ने वाले गांव का बताया जा रहा है। मगर अब तक राकेश का शव लेने को परिजन या गाँववाला नही पहुँचा है। जिसके चलते मृतक नक्सली राकेश का शव अब भी पुलिस अभिरक्षा में दन्तेवाड़ा अस्पताल में रखवाया गया है।
रैनी सीजन में फोर्स की सफलता से एसपी खुश
नक्सलियों के खिलाफ मिली इस बड़ी सफलता के बाद दन्तेवाड़ा एसपी कमलोचन कश्यप ने डीआरजी के जवानों को बधाई भी दी, साथ ही इसी तरह जंगलो में आपरेशन लांच कर नक्सलियों को खदेड़ने की हौसला अफजाई भी की । क्योकि इस बार डीआरजी के जवानों के चक्रव्यू में नक्सली फंसे है। जवानों ने बड़ी ही सतर्कता से नक्सलियों के माँद में घुसकर नक्सलियों की रणनीति विफल करते 03 नक्सलियों को मार गिराने और कुछ को घायल करने में सफलता पाई  है।
कटेकल्याण एरिया को लगा झटका
मुठभेड़ में तीन नक्सलियों के मारे जाने से,  नक्सलियों की कटेकल्याण एरिया को बड़ा झटका लगा, क्योंकि राकेश इस एरिया का सबसे सक्रिय और लम्बे वक्त से इलाके में अपने लाल पाव पसारे हुआ था, एडिशनल एसपी गोरखनाथ बघेल ने जानकारी देते हुए बताया कि राकेश 26 नम्बर प्लाटून का डीसी मेंबर कैडर का था इस कैडर पर 05 लाख का ईनाम होता है। अब नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन और तेज किया जायेगा, बरसात में भी आपरेशन जंगलो में चलाये जायेगे।