nav Pradesh logo

कैप्टन कुल हुए 37 बरस के, कई रिकार्ड दर्ज है इनके नाम

Last Modified Aat : 07-Jul-18

News image
News image
<

नई दिल्ली। 'कैप्टन कूल यानि भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज अपना 37वां जन्मदिन मना रहे हैं। माही के नाम से मशहूर धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 में रांची में हुआ। इनके पिता का नाम पान सिंह और माता का नाम देवकी देवी है। विकेटकीपर, बल्लेबाज धोनी ने 4 जुलाई 2010 को अपनी क्लासमेट साक्षी से शादी की थी। उत्तराखंड की रहने वाली साक्षी और धोनी ने 6 फरवरी 2015 को बेटी को जन्म दिया, जिसका नाम जीवा धोनी है। धोनी के क्रिकेट करियर की बात करें तो वह सबसे सफल कप्तानों की लिस्ट में शामिल हैं। बतौर कप्तान शायद ही कोई ऐसा रिकॉर्ड हो जो धोनी के नाम ना हो। उन्होंने भारतीय क्रिकेट को उन ऊंचाइंयों तक पहुंचा दिया कि दोबारा पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं पड़ी। 

सबसे सफल कप्तान

आईसीसी ट्रॉफी के इतिहास में धोनी इकलौते ऐसे कप्तान रहे हैं, जिन्होंने टी20 वल्र्ड कप, वनडे वल्र्ड कप और अब चैंपियंस ट्रॉफी में भी अपनी कप्तानी का लोहा मनवाया। वो ऐसे भी कप्तान हैं जिनकी टीम ने आईसीसी की वनडे और टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 पोजिशन हासिल की है यानि अगर टेनिस जगत के जुमले का इस्तेमाल किया जाए तो धोनी ने क्रिकेट का हर ग्रैंड स्लैम अपने नाम किया है।

कर चुके हैं रेलवे में टीटी की नौकरी 

धोनी 2001 से 2003 के बीच भारतीय रेल में टीटी की नौकरी करते नजर आए। दोस्तों के मुताबिक वो ईमानदारी से नौकरी करते थे और कई बार खाली समय में खडग़पुर रेलवे स्टेशन पर मस्ती करने से भी नहीं चूकते थे। बावजूद इसके उनका ध्यान क्रिकेट पर ही लगा था और जितनी देरतक वो ड्यूटी करते थे उतना ही समय क्रिकेट को भी दिया करते थे। 

इकलौते ऐसे कप्तान जिन्होंने आईसीसी की तीनों ट्रॉफी पर किया कब्जा

धोनी इकलौते ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीनों बड़ी ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है। धोनी की कप्तानी में भारत आईसीसी की वल्र्ड टी-20 (2007), क्रिकेट वल्र्ड कप (2011) और आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीत चुका है।

टेस्ट में भारतीय टीम को बनाया नंबर वन

धोनी ने भारतीय टीम की कप्तानी साल 2008 में संभाली थी। जब धोनी ने टीम की कप्तानी संभाली तो उनके पास कई चुनौतियां थी। जैसे की युवाओं को मौका देना और भविष्य के लिए टीम का निर्माण करना। धोनी ने उन सभी चुनौतियों का सामना करते हुए भारतीय टीम को कई ऐतिहासिक पल दिए। भारत ने धोनी की कप्तानी में पहली बार नंबर एक बनने का स्वाद चखा।

टेस्ट क्रिकेट से लिया सन्यास

साल 2014 को धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास की घोषणा कर दी। विदेश में अचानक संन्यास लिया, ऐसे में विराट कोहली को तुरंत कप्तानी सौंप दी गई। चयन काफी आसान था इसलिए टेस्ट क्रिकेट में बिना किसी बहस कप्तान की ताजपोशी हो चुकी थी।

वनडे और टी20 की छोड़ चुके हैं कप्तानी

साल 2014 में बीच ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर टेस्ट कप्तानी छोडऩे वाले महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2017 की शुरुआत में ही वनडे और टी20 कप्तानी को भी उसी अंदाज में अलविदा कहा, जिसके लिए वो जाने जाते हैं।

बन चुकी है बायोपिक

धोनी की निजी जिन्दगी को देखते हुए 'धोनी द अनटोल्ड स्टोरीÓ के नाम की फिल्म बन चुकी है। इसमें धोनी के बचपन से लेकर फाइनल में विश्वकप जीतने तक की पूरी स्टोरी को दिखाया गया है। फिल्म में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत हैं। 

धोनी के नाम हैं यह कुछ खास उपलब्धियां

- 1 क्रिकेट वल्र्ड कप

- 1 टी-20 वल्र्ड कप

- 1 चैंपियंस ट्रॉफी

- 3 आईपीएल खिताब

- 2 चैंपियंस लीग टी-20 खिताब

- वनडे क्रिकेट- 9967 रन

- टेस्ट क्रिकेट- 4876 रन

- अंतरराष्ट्रीय टी20- 1487 रन