nav Pradesh logo

ओडीएफ बना ग्राम पंचायत मैनपुर खुर्द और शौचालय की हालत ऐसी की शौच करने नहीं बैठ पा रहे लोग

Last Modified Aat : 04-Jul-18

News image
News image
News image
News image
<

मैनपुर (नवप्रदेश)। मैनपुर विकासखंड मुख्यालय के ग्राम पंचायत मैनपुर खुर्द कमीशन खोरी ,औऱ पंचायत  प्रस्ताव के साथ छेड़छाड़ कर किया जा रहा इस भ्रष्टाचार के तारतम्य मे अब शौचालय निर्माण की धांधली सामने आ रही है ,शौचालय का  निर्माण और  उसकी   राशि  ग्राम पंचायतों के  खातों में आती है । लेकिन मैनपुर ग्राम पंचायत मे शौचालय निर्माण के  इस रकम का दुरुपयोग लगातार हो रहा है  और शौचालयों का आधा-अधूरा निर्माण कराया गया है । शौचालयों का निर्माण ठीक ढंग से न होने का नतीजा है कि अधिकांश का उपयोग शौच के लिए न होकर, जलाऊ लकडी कोयले के साथ अन्य सामान रखने के लिए   किया जा रहा है।

 जांच में मिलीं खामियां

 शौचालय निर्माण के मामले मे ग्राम पंचायत मैनपुर मे यह देखा जा रहा है कि  70 फीसदी शौचालयो का उपयोग हो ही नहीं रहा है। इसका कारण यह है कि शौचालयों का निर्माण मानकों के अनुरूप नहीं हुआ है तो  कहीं शौचालयों में ढांचा नहीं बन पाया तो कहीं कहीं सीट तक  नहीं लग पाई। कुछ शौचालय को  छत नसीब  नहीं हो पाया है  तो कुछ में शौचालयो मे प्लास्टर तक नही करवाया गया है ! अधिकांश शौचालयों में हौज नहीं बने। यदि बने हैं तो उनके गड्ढे खोदकर पाइप ऐसे ही लगा दिये गए। कुछ स्थानों पर तो पाइप लगे ही नहीं हैं। इस कारण लोग इनका उपयोग नहीं कर रहे हैं।

 विकासखंड मैनपुर के मुख्यालय स्थित ग्राम पंचायत मैनपुर खुर्द में वित्तीय वर्ष 2015-16 से आज तक स्वच्छ भारत मिशन के तहत 300    व्यक्तिगत शौचालय निर्माण के लिए जिला पंचायत के द्वारा प्रथम किस्त की राशि  अठ्ठारह -लाख रुपए ग्राम पंचायत मैनपुर को धनराशि आवंटित की गई थी। जिसमे सरपंच के द्वारा  156  शौचालय निर्माण करने का दावा किया जा    है तो वही अठारह लाख बहत्तर हजार रुपए आहरण सरपंच के द्वारा किया गया है जबकि शौचालय आज भी आधे अधुरे है ! हितग्रही  से ना जाने सरपंच की ऐशी कोन से खुन्स या रंजिस है जिसके चलते  सरपंच ने शौचालय निर्माण की सूची सार्वजनिक नही की ओर अपनी मनमानी से शौचालय निर्माण को भी  800 रुपया प्रति शौचालय का कमीशन लिखा पढ़ी के साथ किया गया है।

 85 हितग्राही लगा रहे है दफ्तरो के चक्कर 

 विकासखंङ मुख्यालय ग्राम पंचायत मैनपुर मे शौचालय निर्माण के  85 हितग्राही  शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण कर अब पिछले एक साल से निर्माण की राशि खर्च के लिए जनपद जिला पंचायत और कलेक्टर कार्यालयो के चक्कर लगा रहे है उल्लेखनीय है की शौचालय निर्माण के इन हितग्राहीयो को पहले निर्माण के लिए महज 6  हजार रुपए का भुगतान किए गए  किन्तु शेष  6 हजार रुपए की राशि का भुगतान अब तक सालो से नही हो पाया है ! इस सम्बंध में ग्राम पंचायत मैनपुर के जनप्रतिनिधियों से चर्चा करने पर उन्होंने एक स्वर में कहा कि ग्राम पंचायत मैनपुर के सरपंच के हिटलर शाही रवैये के चलते कई परिवार शौचालय निर्माण योजना से वंचित हो गए सरपंच ने जिला पंचायत से जारी  300 सो पात्र शौचायल निर्माण हितग्राहियो के लिस्ट को कभी सार्वजनिक नही किया और कई पुराने शौचालय को रंग पुतवाकर नया निर्माण बताते हुए बकायदा राशि भी डकार चुकी है सरपंच द्वारा कराए गए शौचालय निर्माण की जांच के लिए ग्राम सभा मे प्रस्ताव पारित कर लिखित आवेदन जनपद पंचायत मैनपुर मुख्यकार्यपालन अधिकारी को दिया गया है।