nav Pradesh logo

हंसी की फुहार और व्यंग्य बाणों की बारिश के बीच अनुपूरक बजट पर हुई चर्चा

Date : 04-Jul-18

News image
<
  • रमन की सिंहदेव पर चुटकी वो दिन गए जब रानी के पेट से राजा पैदा होता था
  • सदन में सीएलपी ने कहा हां मैं खुद को मानता हूं राजा

रायपुर(नवप्रदेश)  । विधानसभा के मानसून सत्र के तीसरे दिन अनुपूरक बजट पर चार्चा के दौरान बातों ही बातों में बहुत सी बातें हुईं। सरगुजा महाराज टीएस.सिंहदेव की राजशाही वाले अंदाज पर सत्तापक्ष ने खूब मजे लिया। सीएलपी सिंहदेव ने मंत्री राजेश मूणत को कहा हां वे अब भी खुद को राजा मानते हैं। उनके इस अंदाज से सीएम ने उनके खुद को राजा मानने वाले जिद भरे अंदाज पर एक गंभीर टिप्पणी भी की। सूबा-ऐ-सदर डॉ.रमन सिंह ने यह कहकर सब को चौंका दिया कि अब राजा रानी के पेट से नहीं पैदा होते आज वे बैलेट से बनते हैं।  आज अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान हास-परिहास के साथ व्यंग्य बाण का दौर चला। शिक्षाकर्मियों के संविलियन के मुद्दे पर सीएम डॉ रमन सिंह ने विपक्ष पर जमकर चुटकी ली . च्रर्चा के दौरान सीएम ने शिक्षाकर्मियों के अब तक के हालात के लिये विपक्ष पर जमकर निशाने पर लिया. मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान कहा कि जब तक शिक्षाकर्मियों का संविलियन नहीं किया था, तब तक नारेबाजी करते थे, आज कर दिया है तो धन्यवाद तक नहीं देते. सीएम ने कहा कि 8 साल की अवधि पूरा करने वाले 1 लाख 4 हजार शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो गया है. 8 साल की सेवा अवधि जैसे जैसे होती जाएगी संविलियन होता जायेगा. उन्होनें विपक्ष पर चुटकी लेते हुए कहा कि  एक गलती की भरपाई आज तक की जा रही है. उस वक़्त गलती किसने की कि 400-500 रुपये में भर्ती की.आज हम करेक्टिव मेजर में जुटे है तो भी आपत्ति की जा रही है.

सीएम डॉ रमन सिंह ने कहा- मैं याद दिला रहा था कि इस कैडर का जन्म किसने किया था. आज हम इसे सुधार रहे हैं. 1 हजार 25 करोड़ का प्रावधान रखा है. उन्होने कहा कि शिक्षाकर्मियों की सेवा शर्ते जब बनाई गई,तब लिखा गया था कि इन्हें स्थायी कभी नहीं किया जाएगा, सेवा शर्ते आपने बनाई और उंगली हम पर उठा रहे हैं. नेता प्रतिपक्ष पर चुटकी लेते हुए सीएम ने कहा- इसके लिए ये राजा जी की गलती नहीं है ये गलती किसी और राजा ने की है.

सीएम के इस बात पर चुटकी लेते हुए मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने कहा कि  हमने कई राजाओं की गलतियां सुधारी है,आगे भी सुधारेंगे. इस पर नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंहदेव ने कहा कि ऐसे में फिर राम को भी मत भूलिएगा,वो भी राजा थे.नेता प्रतिपक्ष की इस बात पर तपाक से मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने सदन में जय-जय श्री राम के नारे लगाए।

हंसी ठहाकों के बीच पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि नेता जी अभी भी अपने आप को राजा मांनते है क्या? इस पर टी एस सिंहदेव ने कहा- हा मानता हूं, क्योंकि मामला सुप्रीम कोर्ट में है। इस बात पर फिर चुटकी लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वो दौर गया जब रानी के पेट से राजा पैदा होता था। आज बैलट से पैदा होता है।