nav Pradesh logo

37 वर्ष पुराने संस्था का जीर्णोद्धार करने पहुंचे -कलेक्टर

Date : 01-Jul-18

News image
News image
News image
News image
<
 
कोण्डागांव । तीन दशक से भी अधिक पुरानी   संस्था दंडकारण्य बुनकर सहकारी समिति बोरगांव का जीर्णोद्धार करने जिला कलेक्टर  टेकाम अपने आला अधिकारियों के साथ बोरगांव पहुंचे। जिला कलेक्टर ने संस्था में दाखिल होने से पूर्व ही संस्था के पुरातन कुआं जो कि कचरे से पटा हुआ है देखकर तुरंत संबंधित विभाग के अधिकारी को इसे साफ करवाने का निर्देश दिया । संस्था में बंद पड़े बोरवेल को चालू कराने की पहल के साथ ही फेंसिंग बाऊंड्री हेतु संबंधित विभाग को आदेश दिए। संस्था के साथ सज्जा एवं पौधारोपण हेतु उद्यान विभाग को निर्देशित किए। संस्था में साफ सफाई बनाए रखने हेतु संस्था में कार्यरत महिलाओं को कहा और संबंधित विभाग को इसकी रंगाई पुताई हेतु निर्देशित किए। संस्था के अध्यक्ष सविता साना एवं सचिव अनीता दास ने कलेक्टर से चर्चा के दौरान कहा कि यह संस्था सन 1981 से पंजीकृत है और तब यहां संस्था बहुत अच्छी तरह काम कर रही थी यहां के बुनकर महिलाओं द्वारा निर्मित कपड़ों का बाजार में अच्छी मांग थी लेकिन समय के साथ धीरे-धीरे यह संस्था उपेक्षा की शिकार होकर अभी कुल 52 महिलाओं के सदस्य बचे हुए हैं जो केवल बैंडेज निर्माण कर अपनी जीविका चला रहे हैं। महिलाओं संस्था में बुनाई किए कपड़ों को दिखाए एवं चर्चा के दौरान उन्होंने उनकी सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि इस संस्था का जीणोद्धार कर इसे नया स्वरूप दिया जाएगा, इसमें वर्तमान में 52 महिलाएं हैं और इसे 250 महिलाओं के कौशल विकास कर स्वावलंबी बनाये जाने की व्यवस्था की जाएगी। 
डिप्टी कलेक्टर सुश्री आस्था राजपूत से चर्चा कर महिलाओं के लिए चूड़ी डिजाइनिंग का कार्य प्रशिक्षण की बात की। कलेक्टर ने महिलाओं के स्वरोजगार के लिए अच्छी संभावनाएं जताई। जनपद फरसगांव के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष ,जनपद सदस्य एवं सरपंच महिला होने से खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यहां की महिला जनप्रतिनिधि ही संस्था की महिलाओं के उत्थान में सहायक होंगी तथा महिला जनप्रतिनिधियों को इसके लिए सहयोग करने को कहा।  उक्त बैठक में मुख्य रुप से जनपद अध्यक्ष सुकमी नेताम, उपाध्यक्ष शाम नेताम, जनपद सदस्य व भाजपा जिला महामंत्री तरूण साना, सदस्य सोमा दास, सरपंच चंद्रकला सरकार, डीईओ राजेश मिश्रा बीईओ शिव प्रकाश शर्मा एबीईओ एसआर देवांगन, उद्यान विभाग के सोनटेके, विकास विस्तार अधिकारी डीआर कवाची, समस्त जिला व वि.ख. के अधिकारियों सहित संस्था के कार्यरत महिलाएं उपस्थित थे।