nav Pradesh logo

इजरायली सेना ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोलीबारी की जिसमें नाबालिग समेत दो फलस्तीनी की मौत हो गयी

Last Modified Aat : 30-Jun-18

News image
<

गाजा। इजरायली सेना ने शुक्रवार को गाजा सीमा पर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोलीबारी की और आंसू गैस के गोले छोड़े जिसमें एक नाबालिग बालक समेत दो फलस्तीनी मारे गये और 415 अन्य घायल हो गये। गाजा के स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि 14 वर्षीय बालक यासीर अबु अल-नाजा और मोहम्मद और मोहम्मद अल-हमायदा (24) की गोली लगने से मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि चार अन्य लोगों को भी गोलियां लगी हैं जिनकी हालत गंभीर है। इजरायली सेना ने एक बयान में कहा कि हजारों फलस्तीनियों ने 'अत्यधिक हिंसक दंगों में भाग लिया। सैनिकों पर ग्रेनेड और पत्थर के साथ-साथ सीमा बाड़ तथा जलते टायरों को फेंका गया। सेना ने आवश्यक होने पर ही उचित कार्रवाई की। बयान में कहा गया कि नाबालिग लड़के की कथित रुप से हुई मौत की जांच की जाएगी और आवश्यक होने पर कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है। गाजा अधिकारियों के मुताबिक गत 30 मार्च को शुरू हुए साप्तहिक विरोध प्रदर्शनों के दौरान इजरायली सेना अबतक कम से कम 135 लोगों को मार चुकी है।  इजऱायल का कहना है कि यह प्रदर्शन इस्लामी समूह हमास द्वारा आयोजित किया जाता है जो गाजा पट्टी को नियंत्रित करता है और इजरायल के अस्तित्व के अधिकार को अस्वीकार करता है। इजऱायल का कहना है कि हमास ने जानबूझकर हिंसा को उकसाया है जबकि हमास इस आरोप से साफ इनकार करता है।