nav Pradesh logo

मैरीलैंड के न्यूजपेपर ग्रुप पर गुरुवार को हुई गोलीबारी की घटना में नया मोड़ आया सामने

Last Modified Aat : 30-Jun-18

News image
<

 

PunjabKesari
'वाशिंगटन पोस्ट' अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, रामोस 2012 में अखबार के एक आर्टिकल को लेकर मानहानि का एक मामला हार गया था. उसका कहना था कि इस लेख से उसकी मानहानि हुई थी. कैपिटल गजट के संपादक जिम्मी डिबट्स ने ट्वीट किया कि इस घटना से वह 'उदास और स्तब्ध' हैं। उन्होंने लिखा , "मैं कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं हूं, बस इतना जानता हूं कि कैपिटल गजट न्यूजपेपर के रिपोर्टर और संपादक हर दिन अपना सबकुछ इस अखबार के नाम कर देते हैं।
PunjabKesari
यहां हफ्ते में केवल 40 घंटे काम नहीं करना होता, न ही मोटी तनख्वाह मिलती है - बस हमारे अंदर समाज की कहानियां बताने का जुनून होता है।" पुलिस ने बताया कि मारे गए लोगों में अखबार के सहायक संपादक रॉब हियासेन, संपादकीय पृष्ठ प्रभारी गेराल्ड फिशमैन, संपादक व संवाददाता जॉन मैकनमारा, विशेष प्रकाशन संपादक वेंडी विंटर्स और सेल्स सहायक रेबेका स्मिथ हैं।
 PunjabKesari
हमले के बाद भी काम कर रहे हैं अखबार के कर्मचारी
जानकारी के अनुसार कार पार्किंग में बैठकर अखबार के तीन रिपोर्टर काम कर रहे हैं। कैपिटल गैजेट के छह रिपोर्टर में से एक चेज कुक ने ट्वीट करके जानकारी दी कि अखबार का कल का अंक भी प्रकाशित किया जाएगा। उनके फोटोग्राफर सहयोगी जोशुआ मैक्रो ने अपने लेपटॉप को पिकअप ट्रक के पीछे रखा था। अखबार ने अपनी डेडलाइन भी 9.30 बजे तक बढ़ा दी थी। चेस अपने फोन पर काम रहे थे, जिससे वह अखबार के संपादकीय प्रणाली तक पहुंच सके।