nav Pradesh logo

जेटली के वेलकम में सांसदों ने थपथपाई मेजें

Date : 09-Aug-18

News image
News image
News image
<

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री एवं सदन के नेता अरुण जेटली ने गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद आज पहली बार राज्यसभा की कार्यवाही में हिस्सा लिया। वह सदन के उपसभापति के चुनाव में मतदान करने सदन में पहुंचें थे। सुबह सदन की कार्यवाही शुरु होने पर जेटली ने जैसे ही सदन में प्रवेश किया तो पक्ष-विपक्ष के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर उनका स्वागत किया। जेटली ने भी हाथ जोड़कर सदस्यों का अभिवादन किया। जेटली ने हरिवंश के उपसभापति चुनाव जीतने पर बधाई दी।

उन्होंने कहा कि हरिवंश काफी शालीन स्वभाव के हैं। वहीं सभापति एम. वेंकैया नायडू ने जेटली की सेहत के लिहाज से सदस्यों को सलाह दी कि वे पास जाकर उनसे हाथ नहीं मिलाए। उन्होंने कहा कि सदस्यों को अति उत्सााह दिखाते हुए जेटली से हाथ नहीं मिलाना चाहिए और उनसे दूर से बात करनी चाहिए क्योंकि डॉक्टर ने उन्हें संक्रमण से बचने के लिए लोगों से दूर रहने की सलाह दी है।

इसके उपरांत सदन में आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जेटली से हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ बढ़ाया तो उन्होंने मुस्काराते अपना हाथ बढाने की बजाय दोनों हाथ जोड़कर उनका अभिवादन किया। जेटली का गत मई में गुर्दा प्रत्यारोपण हुआ था और उसके बाद से वह किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में भाग नहीं ले रहे थे और स्वास्थ्य लाभ कर रहे थे। वह मानसून सत्र के दौरान आज पहली बार सदन में आए। 

उल्लेखनीय है कि 14 मई को एम्स में जेटली के किडनी प्रत्यारोपण के बाद डॉक्टरों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी। दरअसल किसी भी तरह के संक्रमण से बचने के लिए जेटली को डॉक्टरों ने लोगों के संपर्क से दूर रहने को कहा है। आर्थिक, रक्षा, सामाजिक न्याय व कानून संबंधी मुद्दों पर जेटली ने अपने ब्लॉग के जरिए सक्रीयता जारी रखी तो वहीं वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उन्होंने कई अधिकारियों से कामकाज के सिलसिले में संपर्क किया।