Month: July 2017

स्विमसूट में दिखा बिग बॉस कंटेस्टेंट नितिभा कौल का हॉट अवतार

स्विमसूट में दिखा बिग बॉस कंटेस्टेंट नितिभा कौल का हॉट अवतार

Bollywood
टीवी के सबसे चर्चित रियलिटी शो बिग बॉस सीजन 10 से सुर्खियों में आईं नितिभा कौल इन दिनों थाईलैंड की सैर कर रही हैं. नितिभा ने इंस्टाग्राम पर अपने वेकेशन की कई तस्वीरें साझा की है, जिसमें वे पटाया के बीच रिजॉर्ट पर जमकर एन्जॉय करती नजर आ रही हैं. एक खास तस्वीर में नितिभा ब्लैक एंड व्हाइट आउटफिट में काफी हॉट लग रही हैं. बताते चलें कि, 23 साल की नितिभा बिग बॉस में जाने से पहले गूगल में जॉब किया करती थीं. वे ग्लैमर इंडस्ट्री से खास नाता रखती हैं. उन्होंने मिस इंडिया दिल्ली में हिस्सा लिया था. बिग बॉस के घर के अंदर मनवीर गुर्जर के साथ अपनी नजदीकियों को लेकर नितिभा चर्चा में बनी रहती थीं. बताते चलें कि, बिग बॉस के घर से बाहर आने के बाद नितिभा इंडस्ट्री में अपने कदम जमा रही हैं. नितिभा इन दिनों मॉडलिंग में हाथ आजमा रही हैं. कुछ महीने पहले उन्होंने एक मॉडलिंग असाइनमेंट साइन कर, अपना पहला फोटोशूट क
झीरमघाटी जांच आयोग के समक्ष पेश होंगे मुकेश गुप्ता

झीरमघाटी जांच आयोग के समक्ष पेश होंगे मुकेश गुप्ता

Chhattisgarh
-12-13 जुलाई को आयोग में दर्ज कराएंगे बयान रायपुर (नवप्रदेश)। झीरमघाटी कांड के समय इंटेलिजेंस चीफ रहे मुकेश गुप्ता एसीबी चीफ जल्द ही जांच आयोग के समक्ष अपना बयान दर्ज कराएंगे। आयोग ने बयान के लिए उन्हें 12 और 13 जुलाई का समय दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार झीरमघाटी नक्सल हमला कांड की जांच कर रहे जस्टिस प्रशांत मिश्रा के जांच आयोग ने एसीबी चीफ मुकेश गुप्ता को अपना बयान दर्ज कराने के लिए 12 और 13 जुलाई का समय दिया है। ज्ञात हो कि इसके पूर्व जांच आयोग ने बस्तर के तत्कालीन एसी मयंत श्रीवास्तव, तत्कालीन आईजी हिमांशु गुप्ता का भी बयान दर्ज कर लिया है। सूत्रों की माने तो एसीबी चीफ मुकेश गुप्ता के बयान के बाद आरके विज तत्कालीन एडीजी नक्सल का बयान होगा। जस्टि प्रशांत मिश्रा झीरमघाटी नक्सल हमला मामले की जांच कर रहे हैं। ज्ञात हो कि झीरम नक्सली हमले में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नंद
छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 1 अगस्त से, 11 दिनों में होगी कुल 8 बैठकें

छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 1 अगस्त से, 11 दिनों में होगी कुल 8 बैठकें

Chhattisgarh
किसानों की विभिन्न मांगों सहित कई मुद्दें प्राथमिकता से उठाएगा विपक्ष रायपुर(नवप्रदेश)। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 1 अगस्त से 11 अगस्त चलेगा। सत्र की अधिसूचना मंगलवार को विधानसभा के प्रमुख सचिव देवेन्द्र वर्मा ने जारी किया है। 11 दिनों का मानसून सत्र में इस बार कुल 8 बैठकें होंगी। 5 व 6 को शनिवार व रविवार की तथा 7 अगस्त को रक्षा बंधन पर्व का अवकाश रहेगा। 8 दिनों के मानसून सत्र होने के बावजूद विपक्षी दल कांग्रेस कई मुद्दों पर सरकार को घेरने का प्रयास करेगा। इन मुद्दों में किसानों का बोनस, समर्थन मूल्य, ऋण माफ, नक्सली घटनाएं सहित कई मुद्दे शामिल होंगे। नेताप्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने कहा कि मानसून सत्र में किन-किन प्रमुख मुद्दों को प्राथमिकता से उठाया जाएगा इसकी रणनीति विधायक दल की बैठक में बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति चुनाव के बाद कांग्रेस विधायक दल की बैठक रायपुर में
डोकला की स्थिति ‘गंभीर, भारत के सामने सैन्य सहित सभी विकल्प खुले : चीन

डोकला की स्थिति ‘गंभीर, भारत के सामने सैन्य सहित सभी विकल्प खुले : चीन

International, National
नई दिल्ली : चीन ने सिक्किम सेक्टर में भारत के साथ सैन्य गतिरोध को लेकर समझौते की गुंजाइश से इनकार करते हुए 'गंभीर स्थिति को सुलझाने का जिम्मा नई दिल्ली पर डाल दिया है. भारत में चीन के राजदूत लू झाओहुई ने 'पीटीआई  से साक्षात्कार के दौरान कहा कि 'गेंद भारत के पाले में है और भारत को यह तय करना है कि किन विकल्पों को अपनाकर इस गतिरोध को खत्म किया जा सकता है. आधिकारिक चीनी मीडिया और थिंक टैंक की युद्ध के विकल्प को लेकर की गयी टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'कई विकल्पों के बारे में बातें हो रही हैं. यह आपकी सरकार की नीति (सैन्य विकल्प का इस्तेमाल करना है या नहीं) पर निर्भर करता है. इससे पहले चीन के सरकारी मीडिया और थिंक टैंक ने कहा था कि इस विवाद से अगर उचित तरीके से नहीं निपटा गया तो इससे 'युद्ध  छिड़ सकता है. चीन स्थिति का शांतिपूर्ण समाधान चाहता है राजनयिक ने कहा कि चीन सरका
अब भिलाई में बनेगा तारामण्डल : प्रेमप्रकाश पाण्डेय

अब भिलाई में बनेगा तारामण्डल : प्रेमप्रकाश पाण्डेय

Chhattisgarh
रायपुर (नवप्रदेश)। उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) स्थित अपने कक्ष में आयोजित बैठक में विभागीय काम-काज की समीक्षा की। श्री पाण्डेय ने कहा कि राज्य शासन द्वारा अनुमोदित तारामण्डल का निर्माण भिलाई में किया जाएगा। इसके निर्माण पर 17 करोड़ 30 लाख रूपए की लागत आएगी। तारामण्डल का निर्माण छत्तीसगढ़ रीजनल साईंस सेंटर सोसायटी के वैज्ञानिक कार्यक्रम के तहत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इनोवेशन स्कूल निर्माण के लिए राज्य शासन द्वारा सात करोड़ रूपए की स्वीकृति दी गयी है। इसी प्रकार इनोवेशन हब के लिए एक करोड़ 80 लाख रूपए स्वीकृत किए गए हैं। बैठक में पाण्डेय ने तकनीकी शिक्षा, उच्च शिक्षा, साईंस एवं टेक्नालॉजी विभाग के काम-काज की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग कॉलेजों में छात्र-छात्राओं के प्रवेश के लिए संस्था स्तर
मुख्य सचिव ढांड पहुंचे राशन दुकान: कोर पीडीएस व्यवस्था का लिया जायजा

मुख्य सचिव ढांड पहुंचे राशन दुकान: कोर पीडीएस व्यवस्था का लिया जायजा

Chhattisgarh
 तीन दिन में 35 हजार लोगों ने अपनी पसंद की दुकान से लिया राशन रायपुर (नवप्रदेश)। मुख्य सचिव विवेक ढांड ने आज राजधानी रायपुर के राजातालाब स्थित सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकान का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां कम्प्यूटर टेबलेट आधारित ऑन लाइन कोर पीडीएस 'मेरी-मर्जी' व्यवस्था का जायजा लिया। ढांड ने दुकान में राशन लेने आयी महिलाएं शकुंतला, छाया जगत, विमला यादव और अनिता वर्मा से चर्चा कर इस व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। श्री ढांड ने इस अवसर पर दुकान संचालकों द्वारा कार्डधारी महिलाओं से टेबलेट और बॉयोमेट्रिक उपकरण के जरिए ऑनलाईन राशन प्राप्त करने की संपूर्ण गतिविधि का अवलोकन किया। मुख्य सचिव ने इस अवसर पर नियमित रूप से दुकान खुलने, राशन सामग्री का भण्डारण, चावल की गुणवत्ता आदि की जानकारी भी ली। इस दुकान का संचालन प्रीणा सामुदायिक विकास समिति द्वारा किया जा रहा है। इस अवसर पर खाद्य वि
छत्तीसगढ़ को 100 करोड़ का नुकसान, आज से बैरियर मुक्त राज्य

छत्तीसगढ़ को 100 करोड़ का नुकसान, आज से बैरियर मुक्त राज्य

Chhattisgarh
 जीएसटी के बाद चैक पोस्ट का कोई अब कोई औचित्य नहीं था रायपुर, (नवप्रदेश)। आज आधी रात से छत्तीसगढ़ भी बैरियर मुक्त हो जाएगा। दरअसल आज यह बात जीएसटी को लेकर वित्त सचिव अभिताभ जैन और मंत्री राजेश मूणत ने एक प्रेस कांफ्रेंस लेकर पत्रकारों को जानकारी दी। देशभर में जीएसटी लागू होने से अब चैक पोस्ट का कोई मतलब नहीं रह गया था, लिहाजा उसे बंद किया गया। जीएसटी लागू होने के महज तीन दिनों बाद सरकार द्वारा राज्य के चुंगी कर को खत्म कर दिया गया है। यह फैसला उन उन लोगों के लिए काफी राहतभरा हंै जो पहले एक राज्य से दूसरे राज्य की सीमा में सामान की एंट्री के वक्त लगाई जाती थी। अब इन चेक पोस्ट्स का कोई मतलब नहीं रह गया है। छत्तीसगढ़ में परिवहन विभाग ने आज देर रात्री 12 बजे से सभी बैरियरों में वसूली बंद कर दिया हैं। उन्होंने कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद हमने भी कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं जिसमें यह भी
किसानों की दशा सुधारने के लिये स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें

किसानों की दशा सुधारने के लिये स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें

Vichar
आलोक शुक्ला अक्सर कहा जाता है कि भारत किसानों का देश है और उसकी आत्मा गांवों में बसती है। चुनाव के समय सभी पार्टियां किसानों के पक्ष में बड़े.बड़े वादे करती हैं। देश के बड़े नेता अक्सर स्वयं को किसान का बेटा कह कर पुकारते हैं। वे सार्वजनिक कार्यक्रमों में किसानों को अन्नदाता तथा अपनी सरकार को किसानों की सरकार कहने से भी नहीं चूकतेए परन्तु वास्तविकता के धरातल पर देश के किसानो की दशा बड़ी शोचनीय है। विगत कुछ वर्षों से लगातार किसानो की अत्महत्या की खबरे समाचार पत्रों में प्रकाशित होती रही हैं। इस वर्ष यह सब कुछ ज्य़ादा ही हो रहा है। अब क्योंकि बरसात का मौसम आ गया है इसलिये उम्मीद की जानी चाहिये कि किसानो को कुछ राहत मिलेगी और दुखद आत्महत्याओं का यह सिलसिला बंद होगा। देश में किसानों की दशा बेहतर बनाने के लिये सरकार ने स्वामीनाथन आयोग बनाया था। इस आयोग ने किसानों की दुर्दशा के कारणों तथा उनक
चुनावी बांड : जेब तुम्हारी, हाथ हमारा

चुनावी बांड : जेब तुम्हारी, हाथ हमारा

Vichar
डॉ. वेदप्रताप वैदिक अब सरकार और चुनाव आयोग में मुठभेड़ की तैयारी है। 2017 के बजट में वित्तमंत्री ने चुनावी बांड जारी करने की बात कही थी। उसे अब वे अमली जामा पहनानेवाले हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने सरकार को लिखा है कि इन बांडों से चुनावी चंदे की पारदर्शिता खत्म हो जाएगी। इन बांडों के जारी होने पर यह पता ही नहीं लग सकेगा कि किस पार्टी को किसने कितना चंदा दिया है। अभी तो कोई व्यक्ति दो हजार तक और कोई संस्था 20 हजार तक चंदा दे तो उसे अपना नाम बताने की जरुरत नहीं है लेकिन अब लोग करोड़ों रु. के बांड बनवाएंगे और वे चाहे जिस पार्टी को दे सकेंगे। देनेवाले और लेनेवाले के नाम बिल्कुल गोपनीय रखे जाएंगे। चंदादाता को अपनी आडिट रिपोर्ट में भी उसे दिखाने की जरुरत नहीं होगी। चंदा बैंको के जरिए ही दिया जा सकेगा। याने बांड बनाते वक्त बैंक भी डटकर कमीशन कमाएंगे। जो बांड बनवाएगा, उसका नाम बैंक को तो प