राजस्थान में स्वाइन फ्लू का प्रकोप : दो महीने में 88 लोगों की मौत

Sharing it

जयपुर। राजस्थान में स्वाइन फ्लू के प्रकोप को रोकने में सरकारी मशीनरी फेल होती दिख रही है। साल के अभी दो महीने भी नहीं बीते हैं कि राज्य में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या बढ़कर 88 तक पहुंच गई है। अब तक 976 लोग जांच में इस बीमारी के विषाणु से संक्रमित पाए गए हैं। स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामले से राज्य में लोग भय के माहौल में जी रहे हैं।
पिछले दिनों राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने रेड अलर्ट जारी कर कहा था कि प्रदेश में स्वाइन फ्लू बहुत तेजी फैल रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में एक बैठक भी बुलाई थी और बीमारी को रोक पाने में असफल रहने के कारणों पर विचार-विमर्श किया था। रेड अलर्ट के बाद स्वास्थ्य विभाग ने इस बीमारी को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। इसके तहत स्वाइन फ्लू प्रभावित राज्य के इलाकों में कई टीमें रवाना की गई हैं ताकि इस बीमारी पर काबू पाया जा सके। स्वास्थ्य कार्यकर्ता मरीजों के प्रभाव में आने वाले उन लोगों को भी दवाएं दे रहे हैं जिनके अंदर फ्लू के लक्षण हैं। स्वाइन फ्लू के मरीजों के लिए अस्पतालों में अलग से वार्ड बनाए गए हैं। बता दें, जनवरी 2017 में राज्य में स्वाइन फ्लू से मौत का केवल एक मामला सामने आया था जबकि जनवरी 2016 में 19 लोगों की मौत हो गई थी। वर्ष 2015 में स्वाइन फ्लू के कुल 173 मामले पॉजिटिव पाए गए थे और 43 लोगों की मौत हो गई थी।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *