अमित शाह ने कहा ऐंटी हिंदू तो सिद्धारमैया ने बताया कट्टर

Sharing it

बेंगलुरु। कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए सियासी पारा चढऩे लगा है और इसी के साथ ही प्रमुख राजनीतिक दलों के बीच जुबानी जंग भी तेज होती जा रही है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और राज्य में सत्तारुढ़ कांग्रेस पार्टी के मुख्यमंत्री के. सिद्धारमैया ने बुधवार को एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगाया।
राज्य में नव कर्नाटक परिवर्तन यात्रा कर रहे अमित शाह ने कर्नाटक सरकार को ऐंटी-हिंदू करार देते हुए कहा, ‘कर्नाटक की कांग्रेस सरकार वोट बैंक पॉलिटिक्स कर रही है। यह ऐंटी-हिंदू सरकार है। उन्होंने स्ष्ठक्कढ्ढ (सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया) के खिलाफ सभी केसों को वापस ले लिया है, जो कि एक भारत विरोधी संगठन है।Ó
वहीं सीएम सिद्धारमैया ने शाह पर पलटवार करते हुए कहा, ‘बीजेपी, आरएसएस, बजरंग दल में अतिवादी और कट्टरपंथी तत्व भरे हुए हैं। जो भी शांति में खलल डालेगा, उसे हमारी सरकार नहीं छोड़ेगी। हम ऐसा करने वाले किसी को भी बर्दाश्त नहीं करेंगे, चाहे वो बजरंग दल का हो या फिर स्ष्ठक्कढ्ढ का।Ó
अमित शाह ने सिद्धारमैया और कांग्रेस पार्टी को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘मैं यहां पर मुख्यमंत्री के सवाल का जवाब देने आया हूं कि केंद्र सरकार ने कर्नाटक के लिए क्या किया है। यूपीए शासन के दौरान 13वें वित्त आयोग के तहत कर्नाटक के लिए 8,583 करोड़ रुपये जारी किए गए थे। वहीं हमारी सरकार ने 14वें वित्त आयोग के तहत राज्य को 2 लाख 19 हजार करोड़ रुपये जारी किए हैं।Ó
उन्होंने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘केंद्र सरकार द्वारा जारी किया गया पैसा कहां गया? क्या यह आपके गांवों तक पहुंचा? आप गांव में किसी कांग्रेसी कार्यकर्ता के घर को देखिए, जो 5 साल पहले छप्पर के घर में रहता था वो अब 4 मंजिला इमारत में रहता है। घर के सामने एक महंगी कार भी खड़ी नजर आ जाएगी।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *