विश्व मृदा दिवस सह जैविक कृषि मेला का आयोजन

Sharing it

बीजापुर. (नव प्रदेश)
कृषि विज्ञान केन्द्र एवं कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी विभाग बीजापुर द्वारा 5 दिसम्बर 2017 को विश्व मृदा दिवस सह जैविक कृषि मेला का सफल आयोजन कृषि विज्ञान केन्द्र, बीजापुर के प्रक्षेत्र पनारापारा में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्रीमती जमुना सकनी अध्यक्ष जिला पंचायत, विशिष्ट अतिथि श्रीमती अमरावती पुनेम सभापति कृषि स्थायी समिति, चंन्द्रशेखर जुमार उपाध्यक्ष जनपद पंचायत,बीजापुर सुमन कोरसा ,नीना रावतिया सदस्य,जिला पंचायत , एवं चन्द्रैया सकनी उपस्थित थे। मुख्य अतिथि अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती जमुना सकनी ने कहा कि कृषक अपने खेतों का मृदा परीक्षण अवश्य करावें साथ ही मृदा परीक्षण उंपरात प्राप्त सॉयल हेल्थ कार्ड अनुसार खाद का उपयोग करने पर जोर दिया। मुख्य अतिथि ने कहा कि मृदा परीक्षण को जिले में एक अभियान के रूप में चलाया जाये ताकि जिले के सभी कृषकों को अधिक से अधिक लाभ मिल सकें। विशिष्ट अतिथि श्रीमती नीना रावतिया ने कहा कि जिले में मृदा परीक्षण को गॉव-गॉव में जाकर मृदा नमूना एकत्र करना ,प्रशिक्षण एवं सॉयल हेल्थ कार्ड के बारे में विस्तृत जानकारी किसानों को दिया जाना चाहिये। कार्यक्रम में उपाध्यक्ष जनपद पंचायत श्री चंन्द्रशेखर जुमार ने कहा कि बीजापुर में फसल चक्र एवं फसल विविधता को बढ़ावा दिया जान चाहिये एवं जैविक खेती को आधार मानकर धीरे-धीरे रासायनिक उर्वरकों की मात्रा एवं उपयोग कम करने पर जोर दिया । उपसंचालक कृषि श्री पी.कुसरे ने कृषकों को मृदा परीक्षण की उपयोगिता एवं महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी।उन्होने कृषि में उन्नत तकनीक अपनाने पर जोर दिया। किसानों को दलहन एवं तिलहन फसल लेने की सलाह दी उन्होने योजनाओं के साथ कृषकों को हो रही परेशानियों को तत्काल दूर करने की बात कही। कृषि विज्ञान केन्द्र बीजापुर के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख श्री अरूण सकनी द्वारा कृषकों को मृदा परीक्षण के उपरांत उर्वरक प्रबंधन की विस्तृत जानकारी से अवगत कराया। उन्होने कहा कि उर्वरको की मात्रा एवं उपयोग कम कर मृदा परीक्षण के उपरांत मृदा में उपलब्ध पोषक तत्वों की कमी को गोबर खाद, जैव उर्वरक एवं कंपोष्ट खाद के माध्यम से पूरा करने हेतु किसानों को सलाह एवं प्रेरित करने की बात कही। उन्होने खेती को जैविक विधि से करने पर जोर दिया। इसके उपरांत कृषकों को मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि के कर कमलो द्वारा जिले के किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण किया गया।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *