सोना लुढ़का, चांदी में 50 रु. की तेजी

Sharing it

नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर पीली धातु की चमक फीकी पडऩे और स्थानीय बाजार में खुदरा जेवराती ग्राहकी कमजोर रहने से दिल्ली सर्राफा बाजार में आज सोना 200 रुपये लुढ़ककर 30,450 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया। हालांकि, औद्योगिक मांग तेज होने से चांदी 50 रुपये सँभलकर 40,900 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव बिकी। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 3.90 डॉलर फिसलकर 1,275.95 डॉलर प्रति औंस रह गया। दिसंबर का अमेरिकी सोना वायदा भी 3.8 डॉलर की गिरावट में 1,276.70 डॉलर प्रति औंस बोला गया। चाँदी हाजिर 16.97 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही। बाजार विश्लेषकों का कहना है कि मजबूत डॉलर के दबाव में सोना छह अक्टूबर के बाद के निचले स्तर पर आ गया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कर सुधार योजना के परवान चढऩे की संभावना तथा अमेरिका बांड पर लाभ बढऩे से दुनिया की अन्य प्रमुख की तुलना में डॉलर को बढ़त हासिल हुई है। विश्लेषकों के मुताबिक, उत्तर कोरिया को लेकर अभी मामला शांत है और वैश्विक मंच पर कोई बड़ी उथल-पुथल भी नहीं है जिससे पीली धातु को समर्थन नहीं मिल पा रहा है। इसी बीच जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे की लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी की अगुवाई वाले गठबंधन ने चुनाव में जीत हासिल कर ली है जिससे उनके प्रधानमंत्रित्व काल में लागू की गयी आर्थिक एवं मौद्रिक नीतियों में बाधा की संभावना खत्म हो गयी है।
लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी की अगुवाई वाले गठबंधन ने 465 में से 312 सीटों पर जीत हासिल की है। स्थानीय बाजार में पिछले कुछ दिनों से खुदरा जेवराती ग्राहकी सुस्त है। आज भी मांग कमजोर रही जिससे सोना स्टैंडर्ड 200 रुपये लुढ़ककर 30,450 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतनी ही गिरावट में 30,300 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। हालांकि, आठ ग्राम वाली गिन्नी 24,700 रुपये पर स्थिर रही।
औद्योगिक मांग आने से चाँदी हाजिर 50 रुपये की बढ़त के साथ 40,900 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गयी। भविष्य में इसकी मांग कमजोर पडऩे की आशंका में चाँदी वायदा 160 रुपये का गोता लगाती हुई 39,710 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी। सिक्का लिवाली और बिकवाली गत दिवस के क्रमश: 74 हजार और 75 हजार रुपये प्रति सैकड़ा पर स्थिर रहे।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *