मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से बातचीत कर गदगद हुआ नईम का परिवार : मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना ने बचाई थी बेटी आफरीन की जिंदगी

Sharing it

जगदलपुर. (नव प्रदेश)
दो वर्ष पहले बेटी आफरीन के दिल का इलाज मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना के माध्यम से कराकर उसकी जिंदगी बचाई थी। विश्व हृदय दिवस के अवसर पर आज जब स्वयं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने उनके मोबाईल पर बातचीत की और बेटी आफरीन का हालचाल पुछा तब नईम और उनकी पत्नी का दिल गदगद हो गया और उन्होंने आफरीन की जिंदगी बचाने के लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने नईम से बातचीत के दौरान आफरीन का स्वास्थ्य का हालचाल जानने के साथ ही पढ़ाई-लिखाई के संबंध में भी बातचीत की। मुख्यमंत्री ने आफरीन के स्वस्थ्य होने की खबर पर संतोष व्यक्त करते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामनाएं भी व्यक्त कीं। मुख्यमंत्री ने आफरीन को खेलकूद पर भी ध्यान देने को कहा, जिससे उसका सतत विकास हो। आफरीन की माता ने भी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से बातचीत की और बेटी आफरीन को नवजीवन प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री का भावुकतावश रुंधे गले से आभार व्यक्त किया।
कालीपुर स्थित अटल आवास में रहने वाले नईम ने बताया कि आफरीन जन्म के समय साढ़े चार किलो वजन की पूरी तरह स्वस्थ थी, किन्तु धीरे-धीरे उसका विकास रुक सा गया था। स्थानीय शिशु रोग विशेषज्ञ द्वारा हृदय रोग विशेषज्ञ से जांच कराने की सलाह पर उन्होंने जांच कराया। हृदय रोग विशेषज्ञ द्वारा जांच के बाद ऑपरेशन की सलाह दी गई। उन्होंने बताया कि प्लास्टर ऑफ पेरिस का छुटपुट काम ठेके लेकर करते हंै और चार बच्चों का भरा-पूरा परिवार। आय इतनी नहीं थी, कि हृदय का ऑपरेशन करवाते। इस स्थिति में स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना से उपचार कराने के लिए मार्गदर्शन दिया गया। नईम ने बताया कि अगस्त 2015 में आफरीन के हृदय का ऑपरेशन हुआ था और उपचार के दौरान उन्हें सभी प्रकार का सहयोग दिया गया। उन्होंने बताया कि उन्हें उम्मीद से अधिक सहयोग प्रदान किया गया, जिससे आफरीन का सफलता पूर्वक ऑपरेशन और इलाज हुआ और आज आफरीन पूरी तरह स्वस्थ है।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *