विकास यात्रा 2018 : राज्य शासन की योजनाओं से गरीबों के जीवन में आया सकारात्मक परिवर्तन-मुख्यमंत्री

Sharing it

 

  • मुख्यमंत्री ने कांकेर जिले को दी 328 करोड रूपये के 638 विकास कार्यो की सौगात

 रायपुर । मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि राज्य शासन की कल्याणकारी योजनाओं से गरीबों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है। राज्य सरकार ने आम जनता की जरूरतों को जानने और समझने तथा उन्हंे पूरा करने का हर संभव प्रयास किया है। पिछले 15 वर्षो में किसानो, गरीबों, मजूदरों और महिलाओं के हित में अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं, जिनसे उनके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आया है। डॉ.सिंह कल रात जिला मुख्यालय कांकेर के गोविंदपुर मेलाभाठा में आयोजित विशाल आमसभा को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जिले के विकास के लिए लगभग 328 करोड़ रूपये की लागत के 638 विभिन्न निर्माण कार्यों लोकार्पण और भूमिपूजन किया। उन्होंने इनमें से लगभग 70 करोड़ 42 लाख रुपए के 9 कार्यों का लोकार्पण और लगभग 258 करोड़ रूपए के 629 कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ में अब कोई भी व्यक्ति भूखा पेट नही सोता, मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना में सभी गरीब परिवारों को एक रूपये किलो में चावल, निःशुल्क नमक और 5 रूपए में एक किलो चना उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की आयुष्मान भारत योजना की जानकारी देते हुए कहा कि इस योजना के माध्यम से गरीब परिवार किसी भी गंभीर बीमारी का इलाज आसानी ने करा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में साढे बारह लाख आबादी पट्टो का वितरण किया जा रहा है। तेंदूपत्ता संग्राहकों की बेहतरी के कार्यों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि  2003 में तेंदूपत्ता की प्रति मानक बोरा संग्रहरण दर 400 रूपये थी, तेंदूपत्ता संग्रहण दर बढ़कर अब 2500 रूपये प्रति मानक बोरा कर दिया गया है। डॉ रमन सिंह ने कहा कि बस्तर क्षेत्र में तीन हजार करोड़ रूपये की राशि खर्च कर गांवों में इंटरनेट सुविधा मुहैया कराई जा रही है। बस्तर क्षेत्र की 10 हजार ग्राम पंचायतें इंटरनेट से जुड़ने जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास यात्रा के दौरान कॉलेज के विद्यार्थियों, किसानो, श्रमिको, महिलाओं, युवाओं को 50 हजार स्मार्ट फोन निःशुल्क बॉटे जाएॅगे।
समारोह में लोकसभा सांसद श्री विक्रम उसेण्डी ने राज्य और केन्द्र शासन की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। कलेक्टर श्री टामन सिंह सोनवानी द्वारा जिले में किए गए विकास कार्यो का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय, वन मंत्री श्री महेश गागड़ा, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत और बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्याक्ष और अंतागढ़ के विधायक श्री भोजराज नाग विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थें।
डॉ. सिंह ने कार्यक्रम में जिन कार्यो का लोकार्पण किया, उनमें 26 करोड़ 45 लाख रूपए की लागत से निर्मित कांकेर-अमोड़ा-नरहरपुर मार्ग उन्नयन और चौड़ीकरण कार्य तथा 22 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से ग्राम साहवाड़ा-तारसगांव के बीच महानदी पर निर्मित उच्चस्तरीय पुल भी शामिल हैं। उन्होंने इसके अलावा अन्य कई सड़कों और पुल-पुलियों का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कांकेर की आमसभा में शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत लगभग 37 हजार हितग्राहियों को लगभग दो करोड़ 52 लाख रूपए की सामग्री और अनुदान राशि के चेक वितरित किए। उन्होंनेे श्रम विभाग की योजना के तहत 3500 महिला श्रमिकों को एक करोड़ 30 लाख रूपए की साइकिलों, कृषि विभाग की योजना के तहत 1285 किसानों को उड़ावनी पंखें और 30 हितग्राहियों को मिनीराईस मिलों का वितरण किया। डॉ.सिंह ने इस अवसर पर जिले में 29 हजार 826 आबादी पट्टों के वितरण का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने 333 आंगनबाड़ी केंद्रों को रसोई गैस कनेक्शन भी वितरित किए।

इस अवसर पर जिला पंचायत कांकेर की उपाध्यक्ष श्रीमती कृष्णादेवी सिन्हा, छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम की अध्यक्ष सुश्री लता उसेण्डी, छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्री भरत मटियारा, बस्तर संभाग के कमिश्नर श्री दिलीप वासनीकर, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के पूर्व अध्यक्ष श्री सुभाष राव, पूर्व विधायक श्रीमती सुमित्रा मारकोले और श्री ब्रम्हानंद नेताम, आयुक्त जनसंपर्क श्री राजेश सुकुमार टोप्पो, मुख्यमंत्री के विशेष सचिव श्री मुकेश बंसल, आई जी श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस अधीक्षक श्री केएल ध्रुव सहित अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Sharing it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *