राज्य के कर्मचारियों का बढ़ा महंगाई भत्ता

राज्य के कर्मचारियों का बढ़ा महंगाई भत्ता

Chhattisgarh
रायपुर (नवप्रदेश)। राज्य सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते का आदेश आज शाम यहां मंत्रालय से जारी कर दिया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अनुमोदन के बाद वित्त विभाग द्वारा परिपत्र के रूप में जारी आदेश में सातवे वेतनमान के तहत वेतन प्राप्त कर रहे कर्मचारियों को एक जुलाई 2016 से दो प्रतिशत और एक जनवरी 2017 से चार प्रतिशत महंगाई भत्ता मंजूर किया गया है। वित्त विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य के लगभग ढाई लाख सरकारी कर्मचारियों को इसका फायदा मिलेगा। महंगाई भत्ते के भुगतान के लिए इस वित्तीय वर्ष 2017-18 में लगभग 140 करोड़ रूपए खर्च होंगे। आगे करीब 300 करोड़ रूपए की अतिरिक्त राशि राज्य सरकार द्वारा हर साल इसके लिए खर्च की जाएगी। महंगाई भत्ते की राशि का एक जुलाई 2017 से नगद भुगतान किया जाएगा। महंगाई भत्ते की गणना मूल वेतन के आधार पर की जाएगी। इसमें व्यक्तिगत वेतन शामिल नहीं रहेगा। कार्
आदिवासी समाज ने घेरा एसडीएम दफ्तर

आदिवासी समाज ने घेरा एसडीएम दफ्तर

Chhattisgarh
देवभोग. (नव प्रदेश) वनविभाग की कस्टडी में फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले मृतक लभोराम मांझी के मामले में दिन ब दिन आदिवासी समाज उग्र होता जा रहा है। इसी क्रम में छत्तीसगढ़ और उड़ीसा के आदिवासी समाज ने देवभोग मुख्यालय पहुंचकर संयुक्त रूप से अनुविभागीय कार्यालय का घेराव किया। सैकड़ों आदिवासियों ने पूर्व विधायक डमरूधर पुजारी,सोहन पोटाई,धनसिंग मरकाम और कन्हैया मांझी के नेतृत्व में स्थानीय विश्रामगृह से नारेबाजी शुरू की। रैली के दौरान आदिवासी वर्ग ने वनविभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने आरोप लगाया कि वनविभाग ने लभोराम को मानसिक रूप से बहुत ज्यादा प्रताडि़त किया जिसके फलस्वरूप उसने आत्महत्या जैसा बड़ा कदम किया। समाज ने आरोप लगाया कि वनविभाग की कार्रवाई पुरी तरह से गलत है। विभाग ने जब लभोराम को लकड़ी के साथ पकड़ा था तो जप्त लकड़ी कहां गई। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि लभोराम को जिस दिन रें
बारहवीं पास राजेन्द्र बन गया मैकेनिक

बारहवीं पास राजेन्द्र बन गया मैकेनिक

Chhattisgarh
कवर्धा. (नवप्रदेश) बारहवी पास राजेन्द्र का मैकेनिक बनने का सपना आज पूरा हो गया है। अब वह पलक झपके ही खराब मोबाईल को बना लेता है। राजेन्द्र को शुरू से ही मैकेनिक बनने का सपना था, इसलिए वह मोबाईल को बनाने के लिए अपने एक मोबाईल को ही तोड़ दिया था,ताकि वह उस मोबाईल को बना सके,पर बिना प्रशिक्षण के वह सफल नहीं हो सकता। चुकि उनकी आर्थिक स्थिति उतनी अच्छी नहीं,थी कि शहर जा मोबाईल रिपेयरिंग का काम सीख सके। उनके सपने को पूरा करने में जिला अंत्यव्यवायी विकास निगम के योजनाओं ने आर्थिक मदद दिलाई और उनका मैकेनिक बनने का सपना भी पूरा हो गया। मूलत: राजेन्द्रकुमार साहू कबीरधाम जिले के रवेली गांव का रहने वाला है। रवेली कवर्धा से महज 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। वह महज बारहवीं पास है। उन्होने बारहवी पास होने के बाद मोबाईल रिपेयरिंग का कार्य सीखा। हालांकि उन्हे मोबाईल बनाने का शौच पहले से ही था, इस लिए व
जैविक खेती के बाद कड़कनाथ कुक्कुट बना दंतेवाड़ा की पहचान

जैविक खेती के बाद कड़कनाथ कुक्कुट बना दंतेवाड़ा की पहचान

Chhattisgarh
दंतेवाड़ा. (नव प्रदेश) जिले के किसान लोकटी माछी, दुबराज, बादशाहभोग, जवाफूल इत्यादि देशी किस्मों के धान सहित कोदो-कोसरा लघु धान्य फसलों की जैविक खेती के पश्चात अब वृहद पैमाने पर कड़कनाथ कुक्कट पालन कर रहे हैं। जिले के आदिवासी समुदाय के किसानों और ग्रामीणों में कुक्कुटपालन की रूचि और लगन को मद्देनजर रखते हुए इस समुदाय के लोगों को कड़कनाथ कुक्कुटपालन हेतु प्रोत्सहित करने सहित उन्हे आवश्यक मदद देने के लिए सकारात्मक पहल किया जा रहा है। इसी सार्थक पहल के फलस्वरूप जिले के 21 महिला स्वसहायता समूहों सहित 73 किसान कड़कनाथ कुक्कुटपालन को अपनाकर स्वयं आर्थिक समृद्वि की ओर अग्रसर हैं। जिले में वृहद पैमाने पर कडकनाथ कुक्कुटपालन से अब इसकी मांग हैदराबाद,बैंगलुरू, विशाखापट्नम जैसे महानगरों में होने लगी है। इन किसानों से महानगरों की कंपनियां कड़कनाथ कुक्कुटों को स्वयं मंगवा रही है। जिससे जैविक खेती के बाद
महीने भर से कुआकोंडा सीईओ की रात गुजरती आफिस में

महीने भर से कुआकोंडा सीईओ की रात गुजरती आफिस में

Chhattisgarh
दन्तेवाड़ा (नव प्रदेश) जिले के कुआकोंडा जनपद पंचायत की कहानी सुनेगे तो आप आश्चर्य चकित रह जाएंगे। इन दिनों जनपद के मुखिया मुख्य कार्यपालन अधिकारी शेख बसीर महीनों से घुमन्तु सी जीवनशैली पर काम कर रहे है। एक हठधर्मी आफिस के एसडीओ के चलते उन्हें इस तरह रहने को मजबूर होना पड़ रहा है। दरअसल ऐसा हम इसलिए कह रहे कि इन दिनों सीईओ कुआकोंडा का चलता फिरता बिस्तर उनके जनपद कार्यलय के चेम्बर में आपको दिख जाएगा। यहा तक कि सुटकेश चटाई साथ ही साथ रजाई भी नजऱ आ जायेगी। दरअसल कुआकोंडा में भूतपूर्व जनपद सीईओ मनोज बंजारे के हटते ही कुआकोंडा जनपद की जबाबदारी शेख बसीर को जिला प्रशासन ने सौप दी। 27 अक्टूबर को वे बतौर सीईओ की ज्वाइनिंग भी कुआकोंडा मुख्यालय में ले ली। साथ ही साथ जनपद में बने पदीन अधिकारी के क्वाटर पर रहने के लिए जनपद कार्यलय के पास बने क्वाटर पर गये। पर उन्हें वहां दरवाजे पर ताला जड़ा नजर आया। जन
सड़क छाप डॉक्टर ने लगा दिया इंजेक्शन, छात्र की हुई मौत

सड़क छाप डॉक्टर ने लगा दिया इंजेक्शन, छात्र की हुई मौत

Chhattisgarh
दन्तेवाड़ा (नव प्रदेश) दन्तेवाड़ा जिले के लौहनगरी किरन्दुल में घरवालों को तुलसी के मामूली बुखार पर ईलाज करवाना उस वक्त भारी पड़ गया। जब गलत इंजेक्शन ने बच्चे की जान ले ली। घटना के बाद से किरन्दुल में माहौल तनावग्रस्त हो गया। दरअसल किरन्दुल थानाक्षेत्र अंतर्गत कोडेनार ग्राम पंचायत के सुकुरू कैम्प में निवासरत तुलसी नायक को बुखार आ रहा था। परिजनों ने तुलसी को इलाज के लिए किरन्दुल मार्केट में स्थित अर्जुन मेडिकल स्टोर्स में ले गए। जहाँ मेडिकल संचालक ने तुलसी को इलाज करते हुए 727 रुपये लेकर 6 इंजेक्शन लगा दिया। और दवाईया दे दी। इधर इंजेक्शन लगने बाद तुलसी की हालत और भी ज्यादा बिगड़ गयी। घरवाले तुलसी को लेकर एनएमडीसी अस्पताल किरन्दुल इलाज के पहुँचे जहाँ घण्टे दो घण्टे इलाज चलने के बाद डॉक्टरों ने बिगड़ी हालात देखते हुए जगदलपुर रेफर कर दिया जहाँ मेकाज में बच्चे ने दम तोड़ दिया। तुलसी नायक किरन्द
व्यक्ति की मूलभूत आवश्यकता को पूरा करना, सरकार का संकल्प: प्रेमप्रकाश पाण्डेय

व्यक्ति की मूलभूत आवश्यकता को पूरा करना, सरकार का संकल्प: प्रेमप्रकाश पाण्डेय

Chhattisgarh
दुर्ग. (नव प्रदेश) दुर्ग जिले में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर-घर योजना Óसौभाग्यÓ का आज विधिवत शुभारंभ ग्राम पंचायत नगपुरा में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने लोगों तक आसान और सरल तरीके से योजना को पहुंचाने के लिए बनाए गए एप का लांच किया। इस अवसर पर चिन्हांकित 39 परिवारों को बिजली का कनेक्शन की सौगात दिया गया। हितग्राहियों को एलईडी बल्ब एवं योजना का कनेक्शन देकर Óसौभाग्यÓ योजना से लाभान्वित किया गया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने कहा कि सरकार संकल्प लेकर अच्छी नियत के साथ जरूरतमंद लोगों की मूलभूत आवश्यकता को पूरा करने की दिशा में कार्य कर रही है। गांव-गरीब-किसान-मजदूर-युवा-महिला-बुजुर्ग की आवश्यकता और जरूरत को ध्यान में रख कर योजनाएं बनाई जा रही है। व्यक्त
अनुच्छेद 32 की असली ताकत जनता के लिए!

अनुच्छेद 32 की असली ताकत जनता के लिए!

Vichar
क्रमांक-5 कनक तिवारी 9425220737 अनुच्छेद 32 एक ऐसा दुर्लभ प्रावधान है जो सुप्रीम कोर्ट के कर्तव्य बोध की कुंजी है। अनुच्छेद 32 शतरंज के खेल का वह वजीर है जो शासक जनता के बचाव और अन्यायी पर आक्रमण की दोनों मुद्राओं में पारंगत है। न्यायाधीश का अधिकार नहीं है कि वह पंथनिरपेक्ष सामाजिक न्याय करने से बचे। इसके बाद भी हालत यही है कि कई फैसलों में सुप्रीम कोर्ट तक इशारे करता रहा है कि देश को वैश्वीकरण की जरूरत है। उसे विकसित बाजारवाद चाहिए। इसलिए संविधान की पंथनिरपेक्ष समाजवादी आयतों को ईद का त्यौहार मनाने की इजाजत देने के पहले उसको मोहर्रम पर्व मनाने के नाम पर उसकी खुशियों की छुट्टी की जा रही है। यह शब्द छल है या छल के शब्द हैं-इतिहास तय करेगा। अनुच्छेद 32 न्यायाधीशों तक के लिए पूरी तौर पर आदेशात्मक है। उसमें न्यायाधीशों के निजी विवेक की गुंजाइश नहीं है। उसकी आड़ में इस अनुच्छेद की संभावनाओ
रिहाई पर आतंकी हाफिज का हीरो जैसा स्वागत, रैली में उगला जहर

रिहाई पर आतंकी हाफिज का हीरो जैसा स्वागत, रैली में उगला जहर

International
लाहौर। करीब 300 दिनों तक अपने घर में नजरबंद रहने के बाद मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद गुरुवार देर रात रिहा हुआ। रिहा होने के बाद उसने भारत के खिलाफ जमकर जहर उगला। बाद में उसने जमात-उद-दावा के मुख्यालय में एक रैली की और फिर से भारत के खिलाफ जहर उगला। हाफिज सईद ने कहा कि वह भारत के खिलाफ जिहाद जारी रखेगा। संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा घोषित इस वैश्विक आतंकी के गुर्गों और समर्थकों ने इस मौके पर अपनी ताकत का मुजाहिरा किया। हाफिज के घर के बाहर बड़ी तादाद में उसके समर्थक जुटे थे। उसके समर्थकों ने उसके पक्ष में जमकर नारेबाजी की और उस पर फूलों की बारिश भी की। उसकी कार को उसके गुर्गों और समर्थकों ने गुलाब की पंखुडिय़ों से ढक दिया। इस मौके पर लश्कर के नारे लगाए गए। हाफिज सईद की रिहाई के बाद उसके घर के बाहर बड़ी तादाद में लश्कर और जमात-उद-दावा से जुड़े आतंकी जुटे। मुंबई आतंकी हमले का आरोपी जकीउर
गौवंशीय एवं भैसवंशीय पशुओं में खुरहा-चपका बीमारी की रोकथाम के लिए नि:शुल्क टीकाकरण अभियान जारी

गौवंशीय एवं भैसवंशीय पशुओं में खुरहा-चपका बीमारी की रोकथाम के लिए नि:शुल्क टीकाकरण अभियान जारी

Chhattisgarh
रायपुर (नवप्रदेश)। पशुधन विकास मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने गौवंशीय एवं भैसवंशीय पशुओं में एफएमडी (खुरहा-चपका बीमारी) की रोकथाम के लिए बीते 16 दिसम्बर से शुरू सघन नि:शुल्क टीकाकरण अभियान के क्रियान्वयन में सक्रिय सहयोग की अपेक्षा जिला पंचायत अध्यक्षों से की है। श्री अग्रवाल ने जिला पंचायत अध्यक्षों को इस संबंध में पत्र लिखा। राज्य शासन के कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त श्री अजय सिंह ने भी जिला कलेक्टरों और जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को पत्र भेजकर अभियान को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए सहयोग करने का आग्रह किया है। श्री अग्रवाल ने पत्र में कहा है कि प्रदेश में खेती-किसानी तथा दूध व्यवसाय के लिए पशु पालक गौवंशीय और भैसवंशीय पशुओं का पालन करते हैं। विषाणु जनित घातक रोग खुरहा और चपका के कारण दुधारू पशुओं की दूध देने की क्षमता प्रभावित होती है। इन बीमारियों से